जापान में दूसरे देश के नागरिकों के प्रवेश पर लगी रोक, कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए उठाया कदम

जापान में अधिकांश बाहरी देश से आने वाले लोगों के प्रवेश पर दिसंबर में ही अंकुश लगा दिया गया था, लेकिन व्यापार के चलते आने वाले कुछ लोगों सहित स्टूडेंट्स प्रोग्राम की वजह से आने वाले नागरिकों को कड़े प्रतिबंधों के तहत छूट दी गई थी।

फोटोः जापान टाइम्स
फोटोः जापान टाइम्स
user

नवजीवन डेस्क

जापान की सरकार ने देश में कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के मद्देनजर बाहरी देश के लोगों के प्रवेश पर रोक लगा दी है। रिपोर्ट के मुताबिक, अधिकांश बाहरी देश से आने वाले लोगों के प्रवेश पर दिसंबर में ही अंकुश लगा दिया गया था, लेकिन व्यापार के चलते आने वाले कुछ लोगों सहित स्टूडेंट्स प्रोग्राम की वजह से आने वाले नागरिकों को कड़े प्रतिबंधों के तहत छूट दी गई थी।

जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा ने कहा कि देश में कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए बाहरी देश के नागरिकों को यहां प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी। प्रधानमंत्री सुगा ने बुधवार को एक प्रेस वार्ता में कहा, सभी अनिवासी विदेशी नागरिकों के लिए जापान की सीमाओं को 7 फरवरी तक बंद रखा जाएगा क्योंकि ग्रेटर टोक्यो सहित अन्य क्षेत्रों में आपातकाल घोषित हैं।

प्रधानमंत्री ने एक टीवी शो में हाल ही में कहा था कि जापान कुछ देशों के कारोबारियों के लिए अपने दरवाजे खुले रखेगा, बशर्ते ऐसा करने की वजह से ब्रिटेन और दक्षिण अफ्रीका में पाए गए कोरोना की नई किस्म का वायरस न फैले।

बता दें कि ब्रिटेन में मिले कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के बाद दुनिया के कई देशों में फिर से महामारी का खतरा मंडराने लगा है। नए स्ट्रेन के खतरे को देखते हुए कई देशों ने एहतेयाती उपाय के तहत फिर से नए तरह के प्रतिबंध लगाने शुरू कर दिए हैं। इसी के तहत जापान ने अपने यहां दूसरे देशों के नागरिकों के प्रवेश पर रोक लगाने का फैसला लिया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय
next