यूपी में बुलडोजर कार्रवाई पर जयंत चौधरी ने उठाया सवाल, राज्य प्रायोजित गुंडागर्दी का प्रतीक बताया

उत्तर प्रदेश पुलिस ने हालिया हिंसा के लिए अब तक 300 से अधिक आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इनमें प्रयागराज से 91, हाथरस से 51, सहारनपुर से 71, मुरादाबाद से 34, फिरोजाबाद से 15, अलीगढ़ से छह, अम्बेडकरनगर से 34 और जालौन से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

उतर प्रदेश में दो दिन पहले जुमे की नमाज के बाद प्रयागराज, हाथरास, फिरोजाबाद आदि जगहों पर हुई हिंसा के मामले में अब पुलिस कार्रवाई में जुटी है, जिसके तहत मामले में आरोपी बनाए गए लोगों के घरों पर बुलडोजर चलाया जा रहा है। इन सब के बीच आरएलडी प्रमुख जयंत चौधरी ने बुलडोजर कार्रवाई पर सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि बुलडोजर कानून का राज लागु नहीं कर रहा है। बल्कि यह राज्य प्रायोजित गुंडागर्दी का प्रतीक बन गया है!

दरअसल जयंत चौधरी का यह बयान ऐसे समय आया है जब आज प्रयागराज हिंसा के कथित मास्टरमाइंड मोहम्मद जावेद उर्फ पंप के कथित रुप से अवैध घर पर बुलडोजर चलाया जा रहा है। इससे पहले भी हाल के प्रदर्शन के सिलसिले में कई लोगों के घरों पर बुलडोजर चलाया जा चुका है। हालांकि कई लोग इस पर सवाल उठा रहे हैं और योगी सरकार पर पक्षपात के आरोप लगा रहे हैं।


उत्तर प्रदेश पुलिस हिंसा में शामिल लोगों को गिरफ्तार कर उन पर कार्रवाई करने में जुटी हुई है। प्रदेश में पुलिस ने अब तक 300 से अधिक आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इनमें प्रयागराज से 91, हाथरस से 51, सहारनपुर से 71, मुरादाबाद से 34, फिरोजाबाद से 15, अलीगढ़ से छह, अम्बेडकरनगर से 34 और जालौन से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस ने इन सभी लोगों के खिलाफ पथराव, माहौल बिगाड़ने और लोगों को भड़काने में लिप्त होने का आरोप लगाया है। बवाल करने वालों के खिलाफ पुलिस की कार्रवाई लगातार चल रही है। फिलहाल इन सभी जिलों के हिंसा वाले इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था सामान्य है और हालात काबू में हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia