झारखंड के जामताड़ा में माहौल बिगाड़ने की साजिश, हिंदू-मुस्लिम समुदाय ने इस तरह के किया नाकाम

हिंदू-मुस्लिम समुदाय के जुड़े लोगों ने घटना की भर्त्सना की और माहौल बिगाड़ने की साजिश को नाकाम कर दिया।

हिंदू-मुस्लिम समुदाय के जुड़े लोगों ने घटना की भर्त्सना की
हिंदू-मुस्लिम समुदाय के जुड़े लोगों ने घटना की भर्त्सना की
user

नवजीवन डेस्क

किसी राज्य में चुनाव से पहले अकसर दो समुदायों को भड़काने के लिए साजिश के तौर पर कुछ ऐसी घटनाएं सामने आती रहती है, जिससे तनाव बढ़ जाए। इसके लिए एक धर्म की भावनाओं को भड़काने की कोशिश की जाती है। ऐसा ही एक मामला झारखंड से आया है। यहां के जामताड़ा जिला अंतर्गत फतेहपुर बाजार स्थित मस्जिद से धार्मिक ग्रंथ कुरान शरीफ को जलाए जाने की घटना सामने आई है। इससे इलाके में सनसनी फैल गई। हिंदू-मुस्लिम समुदाय के जुड़े लोगों ने घटना की भर्त्सना की और माहौल बिगाड़ने की साजिश को नाकाम कर दिया।

धार्मिक ग्रंथ के जले हुए अवशेष मस्जिद से थोड़ी दूर एक खेत में पाए गए। खबर मिलते ही बड़ी संख्या में लोग पहुंचे। पुलिस भी मौके पर पहुंची। इसे किसी असामाजिक तत्व की हरकत बताते हुए लोगों से शांति-सौहार्द्र बनाए रखने की अपील की गई।


मुस्लिम समुदाय के लोग कुरान शरीफ के अवशेष को कपड़े में बांधकर ले गए। मस्जिद के मौलाना जुल्फिकार निज़ामी ने कहा कि इस क्षेत्र के लिए यह पहली घटना है। यहां के लोग एक-दूसरे के साथ भाईचारे से रहते हैं।

उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर अराजक तत्वों ने इस तरह की घटना को अंजाम देकर सामाजिक समरसता को बिगाड़ने का प्रयास किया है। इस घटना की जितनी निंदा की जाए कम है। थाना प्रभारी आलोक कुमार ने कहा कि इस घटना को अंजाम देने वाले अराजक तत्वों को जल्द ही पुलिस गिरफ्तार कर लेगी।

आईएएनएस के इनपुट के साथ

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;