कानपुर हिंसा: शहर काजी ने एक पक्ष पर कार्रवाई का लगाया आरोप, कहा- बुलडोजर चला तो कफन बांधकर सड़क पर उतरेंगे

कानपुर हिंसा के बाद की जा रही कार्रवाई का शहर काजी हाफिज अब्दुल कुद्दूस हादी ने विरोध करते हुए कहा कि अब मुस्लिम पक्ष के घरों पर बुलडोजर चलाने की बात कही जा रही है। ऐसा हुआ तो कफन बांधकर सड़क पर उतरेंगे।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

यूपी के कानपुर में तीन जून को हुई हिंसा के बाद की जा रही कार्रवाई का शहर काजी हाफिज अब्दुल कुद्दूस हादी ने विरोध करते हुए कहा कि एक ही पक्ष के लोगों की गिरफ्तारियां की जा रही हैं। अब मुस्लिम पक्ष के घरों पर बुलडोजर चलाने की बात कही जा रही है। ऐसा हुआ तो कफन बांधकर सड़क पर उतरेंगे। कानून नहीं तोड़ेंगे लेकिन मरने के लिए तैयार हैं। उधर पुलिस कमिश्नर ने बयान जारी कर कहा कि साक्ष्यों के आधार पर गिरफ्तारियां की जा रही हैं। कानपुर हिंसा मामले में शहर काजी मौलाना अब्दुल कुद्दूस हादी का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि अगर पुलिस एकतरफा कार्रवाई करती है, हमारे घरों पर बुलडोजर चलाती है, तो हम चुप नहीं बैठेंगे। हम सिर पर कफन बांधकर सड़क पर निकलेंगे। उनका दावा है कि पुलिस एक्शन से एक समुदाय में असंतोष है। कहा कि मुस्लिमों ने जुलूस निकालकर गलती की है, लेकिन पत्थर ऊपर से किसी ने चलाए थे। गलती दोनों पक्षों की है।

शहर के काजी ने कहा कि जब हमें रहने नहीं देना है, बच्चों को गिरफ्तार करना है, जुल्म-ज्यादती करनी है, घर तोड़ना है तो ठीक है, हम भी तैयार हैं। हालांकि टीवी चैनलों पर यह बयान आने के बाद उन्होंने पूरे मामले पर सफाई दी और कहा कि उनके बयान को तोड़मरोड़ कर पेश किया गया है।

उनकी यह मंशा नहीं थी। उन्होंने कहा था कि अगर निर्दोषों पर कार्रवाई की गई तो विरोध करेंगे और लोग कफन बांधकर सड़कों पर आने को तैयार हैं। उन्होंने हमेशा कानून का पालन किया है।

टीवी चैनल को दिए बयान को लेकर चर्चाएं शुरू हुईं तो शहरकाजी अब्दुल कुद्दूस ने अपने बयान को स्पष्ट भी किया। उन्होंने कहा कि मंडलायुक्त से मुलाकात करके आए हैं, मैंने कहा है कि हमें लगता है कि गिरफ्तारी कुछ ज्यादा हो रही हैं। झगड़ा इतना बड़ा नहीं था, छोटा था। इससे पहले बहुत दंगे हुए उसमें इतनी गिरफ्तारियां नहीं हुईं जितनी अब हो रही हैं। मैंने कहा कि अब इसको नजरअंदाज करिए। बात आगे बढ़ाने से बढ़ती है और नजरअंदाज करने से रुकती है। उम्मीद है कि अब ऐसा फैसला आएगा और सबका भला हो जाएगा।

पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीना ने कहा कि जो भी कार्रवाई की जा रही है वह कानून के हिसाब से की जा रही है। सीसीटीवी, वीडियो व फोटो के जरिये उपद्रवियों की पहचान की जा रही है, जिससे कोई भी बेगुनाह पर कार्रवाई न हो, जिसने हिंसा की वही जेल जाए। सीपी ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia