कर्नाटक उपचुनाव: कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन को मिला दिवाली गिफ्ट, 5 में से 4 सीटों पर बीजेपी को दी मात

कांग्रेस ने बल्लारी लोकसभा और जामखंडी विधानसभा सीट पर जीत दर्ज की है। वहीं मांड्या लोकसभा और रामनगर विधानसभा सीट पर जेडीएस ने जीत हासिल की है। बीजेपी को सिर्फ शिमोगा लोकसभा सीट पर जीत मिल पाई है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कर्नाटक में हुए उपचुनाव के नतीजे घोषित हो गए हैं। उपचुनाव में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन ने बीजेपी को बड़ा झटका दिया है। 3 लोकसभा और 2 विधानसभा सीटों में से 2 लोकसभा और 2 विधानसभा सीटों पर गठबंधन ने जीत का परचम लहराया है। कांग्रेस ने बल्लारी लोकसभा और जामखंडी विधानसभा सीट पर जीत दर्ज की है। वहीं मांड्या लोकसभा और रामनगर विधानसभा सीट पर जेडीएस ने जीत हासिल की है। बीजेपी को सिर्फ शिमोगा लोकसभा सीट पर जीत मिल पाई है।

बल्लारी लोकसभा सीट पर बीजेपी को झटका देते हुए कांग्रेस ने 14 साल बाद वापसी ली है। इस सीट पर बीजेपी के दिग्गज नेता श्रीरामल्लू सांसद थे, लेकिन विधानसभा चुनाव में जीत हासिल करने के बाद उन्होंने लोकसभा सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। उपचुनाव में बीजेपी ने श्रीरामल्लू की बहन शांता को प्रत्याशी बनाया था, उन्हें कांग्रेस उम्मीदवार वीएस उग्रप्पा ने बड़े अंतर से हरा दिया है। मांड्या लोकसभा से जेडीएस उम्मीदवार एलआर सीवराम्मे गौड़ा ने जीत हासिल की है।

रामनगर विधानसभा सीट से सीएम कुमारास्वामी की पत्नी अनीता कुमारास्वामी ने जेडीएस प्रत्याशी के तौर पर जीत हासिल की है। अनिता कुमारस्वामी को 1 लाख 25 हजार 43 वोट मिले हैं। यह सीट कुमारास्वामी के इस्तीफे के बाद खाली हुई थी। वहीं जामखंडी विधानसभा सीट से कांग्रेस के आनंद न्यामागौड़ा ने जीत का परचम लहराया है। आनंद न्यामागौड़ा को 97 हजार 17 वोट मिले हैं। यह सीट सिद्दू भीमप्पा न्यामगौड़ कांग्रेस विधायक निधन हो जाने के चलते खाली हुई थी।

शिमोगा लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार बीवाई राघवेंद्र 52 हजार 148 वोटों से जीत हासिल की। इस इसी सीट पर बीजेपी को जीत मिल पाई है।

कर्नाटक उपचुनाव पांचों सीटों पर शनिवार को 67 फीसदी मतदान हुए थे। 31 उम्मीदवार चुनाव मैदान में थे। इसमें बीजेपी के 5, कांग्रेस के 3, जेडीएस के 2 और 21 निर्दलीय उम्मीदवार शामिल थे।

उपचुनाव के नतीजों के आने के बाद राज्य के मुख्यमंत्री एचडी कुमारास्वामी ने कांग्रेस और जेडीएस के नेताओं को बधाई दी है। उन्होंने कहा, “इस जीत में अहम भूमिका निभाने के लिए मैं कांग्रेस और जेडीएस के नताओं को बधाई देता हूं। बीजेपी, कांग्रेस और जेडीएस गठबंध को अपवित्र बता रही थी। नतीजों ने बीजेपी को आइना दिखा दिया है।”

उपचुनाव के नतीजों पर कांग्रेस ने कहा है कि तनीजों से यह साफ हो गया है कि जनता बदलाव के मूड में है। प्रेस से बात करते हुए कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा कि मोदी सरकार ने जो भी वादे जनता से किए थे उसे पूरे नहीं किए। उन्होंने कहा कि नोटबंदी समेत सरकार ने कई ऐसे फैसले लिए जिसका खामियाजा जनता को भुगतना पड़ा। उन्होंने कहा कि इन्हीं बातों उपचुनाव में असर पड़ा है और बीजेपी को मुंह की खानी पड़ी है।

कर्नाटक उपचुनाव के नतीजों पर प्रतिक्रिया देते हुए राज्य के कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश गुंडू राव ने कहा कि जनता ने बीजेपी और मोदी सरकार को नकार दिया है।

लोकप्रिय
next