कर्नाटक LIVE: कांग्रेस विधायक भी हैदराबाद से बेंग्लुरु के लिए रवाना, कल होंगे बहुमत परीक्षण में शामिल

यह है कर्नाटक विधानसभा का गणित और बहुमत के आंकड़ों का खेल

 

वीडियो : जेडीएस विधायकों के साथ हैदराबाद से बेंग्लुरु की फ्लाईट में रवाना हुए एच डी कुमारास्वामी

कांग्रेस के विधायक भी बेंग्लुरु के लिए रवाना

कांग्रेस के सभी विधायक हैदराबाद से बेंग्लुरु के लिए रवाना हो गए हैं। यह सभी विधायक हैदराबाद के ताज कृष्णा होटल में ठहरे हुए थे। सभी विधायकों को शनिवार सुबह विधानसभा में शपथ लेनी है और उसके बाद सभी विधायक शाम 4 बजे होने वाले बहुमत परीक्षण में हिस्सा लेंगे।

बी एस येदियुरप्पा ने की बीजेपी विधायकों के साथ लंबी बैठक

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने बेंग्लुरु के शेंगरि ला होटल में बीजेपी विधायकों के साथ बैठक कर शनिवार को होने वाले शक्ति परीक्षण की रणनीति बनाई।

प्रोटेम स्पीकर के तौर पर के जी बोपय्या की नियुक्ति के मामले में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई कल सुबह 10.30 बजे

सुप्रीम कोर्ट ने जेडीएस-कांग्रेस की उस याचिका को स्वीकार कर लिया है जिसमें कर्नाटक के राज्यपाल द्वारा प्रोटेम स्पीकर के तौर पर बीजेपी विधायक केजी बोपैय्या की नियुक्ति को चुनौती दी गई है। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट शनिवार सुबह 10.30 बजे सुनवाई करेगा।

जेडीएस विधायक हैदराबाद से बेंग्लुरु के लिए रवाना

कर्नाटक विधानसभा में शनिवार को होने वाले शक्ति परीक्षण में हिस्सा लेने के लिए जेडीएस विधायकों का बेंग्लुरु रवाना होना शुरु हो गया है। ये सारे विधायक हैदराबाद में रुके हुए थे।

प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति के खिलाफ तत्काल सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुंचे कांग्रेस के वकील

कर्नाटक में बीजेपी को सरकार का न्योता देने के खिलाफ यूपी कांग्रेस ने सौंपा राज्यपाल को ज्ञापन

उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर की अगुवाई में एक प्रतिनिधिमंडल के साथ राज्यपाल राम नाइक से मुलाकात की और उन्हें ज्ञापन सौंप कर कर्नाटक में राज्यपाल द्वारा बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता देने के खिलाफ ज्ञापन सौंपा

बीजेपी झूठ फैला रही है, हमारे सारे विधायक हमारे साथ : जेडीएस

जेडीएस ने कहा है कि उसके सारे विधायक एकजुट हैं और बीजेपी इस बारे में झूठ फैला रही है। बेंग्लुरु में एक प्रेस कांफ्रेंस में जेडीएस नेता सरवना ने कहा कि जिस विधायक देवानंद चव्हाण के बारे में बीजेपी दावा कर रही है कि वह बीजेपी खेमे में चले गए हैं, वह हमारे साथ हैं।

बीजेपी के जनार्दन रेड्डी का ऑडियो, कांग्रेस विधायक को दे रहे हैं पैसे और पद का लालच

कर्नाटक कांग्रेस ने एक ऑडियो जारी किया है, जिसमें बीजेपी के जनार्दन रेड्डी रायचुर ग्रामीण से कांग्रेस के विधायक को पद और पैसे का लालच देते हुए सुनाई दे रहे हैं। कर्नाटक कांग्रेस ने कहा कि ऑडियो में जनार्दन रेड्डी साफ तौर पर कहते सुने जा सकते हैं कि उन्हें खरीद-फरोख्त करने के लिए अमित शाह का आशिर्वाद प्राप्त है।

प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति के खिलाफ जेडीएस पहुंची सुप्रीम कोर्ट

खबर आ रही है कि जेडीएस ने कर्नाटक में प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। इससे पहले कांग्रेस ने प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति को लेकर सवाल उठाए थे और कहा था कि इसमें नियमों की अनदेखी हुई है। इससे पहले कर्नाटक मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद राज्यपाल वसुभाई वाला ने बीजेपी विधायक केजी बोपैय्या को विधानसभा का प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किया था। जबकि परंपरा ये है कि सदन के सबसे वरिष्ठ विधायक को प्रोटेम स्पीकर बनाया जाता है। कांग्रेस के एक विधायक वर्तमान विधासभा में सबसे वरिष्ठ सदस्य हैं।

प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति के खिलाफ कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगा सकती है

खबरों के मुताबिक प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति के खिलाफ कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगा सकती है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद राज्यपाल वजुभाई वाला ने बीजेपी विधायक के जी बोपैय्या को प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किया था। कांग्रेस का आरोप है कि प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति में नियमों की अनदेखी की गई है।

हैदराबाद पहुंचे सिद्धारमैया

कांग्रेस नेता और कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया हैदराबाद पहुंच गए हैं। हैदराबाद में वे पार्टी के विधायकों से मुलाकात करेंगे। कांग्रेस के विधायक होटल ताज कृष्णा में ठहरे हुए हैं।

प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति नियमों के अनुसार हुई है: प्रकाश जावड़ेकर

कर्नाटक में बीजेपी के चुनाव प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर ने प्रोटेम स्पीकर को लेकर कांग्रेस द्वारा लगाए गए आरोपों को खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति नियमों के अनुसार की गई है। जावड़ेकर ने कहा, “केजी बोपैय्या को 2008 में भी तत्‍कालीन राज्‍यपाल द्वारा प्रोटेम स्‍पीकर नियुक्‍त किया गया था। उस वक्‍त वो अभी की तुलना में 10 साल छोटे थे। ऐसे में कांग्रेस के आरोप बेबुनियाद हैं।”

प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति नियमों के खिलाफ हुईः कांग्रेस

कर्नाटक मामले में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद राज्यपाल वसुभाई वाला ने बीजेपी विधायक केजी बोपैय्या को विधानसभा का प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किया है। इस नियुक्ति को गलत बताते हुए कांग्रेस ने कहा कि इस नियुक्ति में नियमों की अनदेखी की गई है। कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि ऐसी स्थिति में आदर्श तौर पर सबसे वरिष्ठ सदस्य को प्रोटेम स्पीकर बनाने की परंपरा रही है।

बीजेपी चाहती थी सेक्रेट बैलेट से वोटिंग, कोर्ट ने किया खारिजः अभिषेक मनु सिंघवी

कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कर्नाटक मामले पर सुप्रीम कोर्ट में चली सुनवाई के बारे में बताते हुए कहा कि बीजेपी सेक्रेट बैलेट से वोटिंग चाहती थी, लेकिन अदालत ने उसकी मांग खारिज कर दी।

बीजेपी के विधायक केजी बोपैय्या बनाए गए कर्नाटक विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर

कर्नाटक के राज्यपाल ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद विधानसभा का प्रोटेम स्पीकर नियुक्त कर दिया है। राज्यपाल वजुभाई वाला ने बीजेपी विधायक के जी बोपैय्या को प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किया है। हालांकि, इस निुयुक्ति में भी सबसे वरिष्ठ सदस्य को प्रोटेम स्पीकर बनाने के नियम की अनदेखी की गई है। इस बीच राज्य के सभी बीजेपी विधायक राज्यपाल से मुलाकात करने राजभवन पहुंचे हैं।

बीजेपी का असली चाल, चरित्र और चेहरा सामने आयाः कांग्रेस

कर्नाटक में जारी सियासी संकट पर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले से बीजेपी का असली चेहरा और चरित्र सामने आ गया है।

कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं

कांग्रेस के संपर्क में बीजेपी के तीन विधायक

कर्नाटक विधानसभा में शनिवार शाम 4 बजे सीएम येदियुरप्पा को बहुमत साबित करना है। इस बीच बीजेपी को बड़ा झटका लग सकता है। खबरों के मुताबिक बीजेपी के तीन विधायक कांग्रेस के संपर्क में हैं।

मौका मिला तो हम आसानी से बहुमत साबित कर देंगे: तेजस्वी यादव

कर्नाटक में बीजेपी का सबसे बड़ी पार्टी होने का तर्क देकर राज्यपाल के फैसले को सही बताना उसे दूसरे राज्यों में उलटा पड़ता नजर आ रहा है। बीजेपी के तर्क पर बिहार में आरजेडी ने राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया है। मीडिया से बात करते हुए बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि अगर हमें मौका मिला तो हम विधानसभा में बहुमत साबित कर देंगे। उन्होंने कहा, “हमारे पास 111 विधायक हैं और जेडीयू के कई नाराज विधायक हमारे संपर्क में हैं। हमारे गठबंधन में कोई ऐसी पार्टी या विधायक नहीं हैं जो नीतीश कुमार की तरह पलट जाएं।”

बीजेपी ने कांग्रेस विधायक आनंद सिंह को बंधक बनाकर रखा: गुलाम नबी आजाद

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने दावा किया है कि बीजेपी ने कांग्रेस विधायक आनंद सिंह को बंधक बनाकर रखा है। मीडिया से बात करते हुए गुलाम नबी आजाद ने कहा, “हमें मालूम है किस केंद्रीय मंत्री के द्वारा आनंद सिंह को फोन गया, बुलाया गया और बाद में पकड़ कर भी रखा।”

सीएम येदियुरप्पा ने विधानसभा में आपात बैठक बुलाई

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा को शनिवार शाम 4 बजे विधानसभा में बहुमत साबित करना है। इस बीच खबरों के मुताबिक येदियुरप्पा ने विधानसभा में आपात बैठक बुलाई है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने कल बहुमत परीक्षण होने तक येदियुरप्पा के नीतिगत फैसले लेने पर रोक लगा रखा है। ऐसे में सीएम येदियुरप्पा इस आपात बैठक में कोई नीतिगत फैसले नहीं ले सकते।

सिद्धारमैया का दावा, कांग्रेस विधायक आनंद सिंह को बीजेपी ने बंधक बनाया

खबरों के मुताबिक कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने दावा किया है कि कांग्रेस विधायक आनंद सिंह को बीजेपी नेताओं ने बंधक बना लिया है। सिद्धारमैया ने बीजेपी पर कांग्रेस और जेडीएस विधायकों को धमकी देने का आरोप भी लगाया है। इससे पहले आज सुबह कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने भी कहा था कि कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों को रिसॉर्ट में धमकी मिल रही थी, जिसके चलते उन्हें हैदराबाद ले जाया गया है।

हमारे विधायक हमारे साथ हैं: जीटी देवगौड़ा

विधायकों की खरीद-फरोख्त के मसले पर जेडीएस नेता जीटी देवगौड़ा ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “100 करोड़ या 200 करोड़ की बात हो, हमारे विधायक हमारे साथ हैं। हमारा कोई भी विधायक कहीं नहीं जा रहा है। आज शाम या कल सुबह हम बेंगलुरु के लिए निकलेंगे।”

मणिपुर: कांग्रेस नेता ओकराम इबोबी सिंह राज्यपाल से मिले

मणिपुर के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता ओकराम इबोबी सिंह ने बताया कि उन्होंने राज्यपाल से मिलकर सबसे बड़ी पार्टी होने की बात कही। राज्यपाल जगदीश मुखी ने उन्हें इस मसले पर गौर करने का आश्वासन दिया है।

बिहार: राज्यपाल से मिले आरजेडी नेता तेजस्वी यादव, सरकार बनाने का दावा किया पेश

आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया। उन्होंने सबसे बड़ी पार्टी होने का दावा करते हुए कांग्रेस, सीपीआई (एमएल) और हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा के विधायकों के समर्थन का पत्र भी सौंपा।

गोवा: 13 कांग्रेस विधायक राजभवन में, कहा, हम हैं सबसे बड़ी पार्टी

राजभवन पहुंचे 13 कांग्रेस विधायकों ने राज्यपाल मृदुला सिन्हा से मुलाकात की और उनके सामने सबसे पार्टी होने की बात रखते हुए पत्र भी सौंपा।

राज्यपाल का कदम असंवैधानिक था: सिद्धारमैया

सिद्धारमैया ने राज्यपाल के कदम को अंसवैधानिक करार देते हुए बताया कि येदियुरप्पा के पास खुद को मिलाकर 104 विधायक थे, फिर भी राज्यपाल ने उन्हें सरकार बनाने के लिए बुलाया। उन्होंने बहुमत साबित करने के लिए 7 दिन मांगे थे, लेकिन राज्यपाल ने 15 दिन दिए।

सभी विधायकों को शपथ दिलाने के बाद होगा शक्ति परीक्षण: गुलाम नबी आजाद

सुप्रीम कोर्ट ने एक प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति करने को कहा है, साथ ही सभी विधायकों को शपथ दिलाने को कहा है। इसके बाद शाम 4 बजे शक्ति परीक्षण के लिए कहा है।

परंपरा के मुताबिक प्रोटेम स्पीकर सदन का सबसे वरिष्ठ सदस्य होता है। इसके अलावा परंपरा के मुताबिक सदस्यों के शपथ के बाद सदन के स्पीकर का चुनाव होता है।

हमारे पास सुप्रीम कोर्ट जाने के अलावा दूसरा विकल्प नहीं था: गुलाम नबी आजाद

गुलाम नबी आजाद ने कहा, “हमारे पास सुप्रीम कोर्ट जाने के अलावा दूसरा विकल्प नहीं था। सुप्रीम कोर्ट ने संविधान की रक्षा करते हुए जो कुछ किया, वह ऐतिहासिक है। हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हैं। हालांकि हमें अपेक्षा थी कि सुप्रीम कोर्ट कर्नाटक के राज्यपाल के फैसले को रद्द कर देगा, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने संविधानिक नियमों के आधार पर जो फैसला दिया है, हम उसका स्वागत करते हैं।”

राज्यपाल ने सारे नियमों को ताक पर रखा: गुलाम नबी आजाद

गुलाम नबी आजाद ने कहा, “पूर्व की मिसालों से पता चलता है कि बहुमत साबित करने के लिए 24 घंटे का ही समय मिलता रहा है, एकाध मामले में 7 दिन का समय दिया गया है। लेकिन संविधान की अनदेखी और संविधान का उल्लंघन करते हुए माननीय राज्यपाल ने सारे नियमों को ताक पर रख दिया।”

राज्यपाल ने अल्पमत वाली बीजेपी को सरकार बनाने का न्यौता दिया: गुलाम नबी आजाद

गुलाम नबी आजाद ने कहा, “हम राज्यपाल के न्यौते का इंतजार कर रहे थे, क्योंकि हमें पता था कि बीजेपी के पास बहुमत का आंकड़ा नहीं है। लेकिन देश को सकते में डालते हुए राज्यपाल ने अल्पमत वाली बीजेपी को सरकार बनाने का न्यौता दिया। इतना ही नहीं, राज्यपाल ने बीजेपी को 15 दिन का समय बहुमत साबित करने के लिए दिया, जो कि इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ था।”

बीजेपी से पहले हमने सरकार बनाने का दावा पेश किया था: गुलाम नबी आजाद

मीडिया से बात करते हुए गुलाम नबी आजाद ने कहा, “कर्नाटक में चुनाव होने के बाद से, किसी राजनीतिक दल को सरकार बनाने के लिए पूर्ण बहुमत नहीं मिला। बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी लेकिन, दूसरे नंबर और तीसरे नंबर की पार्टी (कांग्रेस - 78 और जेडीए-38 और निर्दलीय -2 ) के आधार पर इस गठबंध की संख्या 117 हो गई। हमने राज्यपाल से तीन बार मुलाकात की और सरकार बनाने का दावा किया। हमने बीजेपी के दावा पेश करने से पहले ही सरकार बनाने का दावा पेश किया था।”

सुप्रीम कोर्ट के फैसले से संविधान की रक्षा हुई: गुलाम नबी आजाद

गुलाम नबी आजाद ने कहा, “सुप्रीम कोर्ट के फैसले से संविधान की रक्षा हुई है। इससे एक बार फिर साबित हुआ है कि देश में कानून का राज है। मौजूदा केंद्र सरकार के सत्ता में आने के बाद से पिछले दो सालो में अरुणाचल से लेकर मणिपुर, गोवा, मेघालय आदि राज्यों में कानून के मुताबिक सरकार बनी है, न ही संविधान के मुताबिक सरकारों का गठन हुआ है। संविधान की अनदेखी करते हुए बीजेपी नेताओं को मुख्यमंत्री बनाया गया है।”

बीजेपी दोहरा रवैया अपना रही है: गुलाम नबी आजाद

मीडिया से बात करते हुए गुलाम नबी आजाद ने कहा कि बीजेपी दोहरा रवैया अपना रही है। उन्होंने कहा, “गोवा और मणिपुर जैसे राज्यों कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी थी, लेकिन वहां कांग्रेस को सरकार बनाने का न्यौता नहीं दिया गया। अब बीजेपी कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी होने का तर्क देकर खुद को सही बता रही है। अगर ऐसा है तो गोवा और मणिपुर जैसे राज्यों में कांग्रेस को सरकार बनाने का मौका मिलना चाहिए।” उन्होंने कहा कि हमें पता था कि गोवा और मेघालय की तरह राज्यपाल कर्नाटक में भी उसी फार्मूले को अपनाएंग, जहां दूसरे तीसरे नंबर के दलों के साथ आने पर सरकारें बनीं, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

बीजेपी के पास बहुमत नहीं है: गुलाम नबी आजाद

मीडिया से बात करते हुए गुलाम नबी आजाद ने कहा, “बीजेपी के पास 104 विधायक हैं। हमारे पास 78 के अलावा जेडीएस के 38 विधायक हैं। हम बहुमत साबित करने के लिए तैयार हैं।”

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद प्रेस को संबोधित कर रहे हैं

कर्नाटक मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद प्रेस को संबोधित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कल बीजेपी को बहुमत साबित करना होगा।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने साबित किया, राज्यपाल का फैसला असंवैधानिक था: राहुल गांधी

कर्नाटक मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट किया, “सुप्रीम कोर्ट के आदेश से हमारे इस रुख की पुष्टि होती है कि राज्यपाल ने असंवैधानिक ढंग से काम किया है।” उन्होंने कहा, “संख्या के बिना सरकार गठन के बीजेपी के दावे को कोर्ट ने खारिज किया है। कानूनी रूप से रोके जाने के बाद बीजेपी अब सत्ता हासिल करने के लिए धन और बल इस्तेमाल करने का प्रयास करेगी।”

गुप्त मतदान नहीं कर पाएंगे विधायक

कर्नाटक विधानसभा में शनिवार शाम 4 बजे बहुमत परीक्षण होगा, इसका आदेश सुप्रीम कोर्ट ने दिया है। बहुमत परीक्षण के दौरान विधायक गुप्त मतदान नहीं कर पाएंगे। सुप्रीम कोर्ट ने ऐसा करने से मना किया है। साथ ही बहुमत परीक्षण की वीडियोग्राफी भी नहीं होगी।

हम बहुमत साबित करेंगे: सीएम येदियुरप्पा

कल शाम 4 बजे बहुमत साबित करने के सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर सीएम येदियुरप्पा ने कहा, “हम 100 फीसदी आश्वस्त हैं, हम बहुमत साबित करेंगे। मुख्य सचिव के साथ चर्चा करेंगे और कल विधानसभा सत्र बुलाएंगे।”

बीजेपी ने अपने सभी विधायकों को रात तक बेंगलुरु बुलाया

कर्नाटक विधानसभा में शनिवार शाम 4 बजे बहुमत परीक्षण होगा। सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद बीजेपी ने अपने सभी विधायकों को आज रात तक बेंगलुरु पहुंचने के लिए कहा है।

हमें 100 फीसदी भरोसा कि हम बहुमत परीक्षण जीतेंगे: सिंघवी

सुप्रीम कोर्ट के फैसले से साबित हो गया कि येदियुरप्पा के पास विधायकों की पर्याप्त संख्या नहीं है। यह बात कोर्ट के फैसले के बाद अभिषेक मनु सिंघवी ने कही। उन्होंने कहा कि येदियुरप्पा की तरफ से राज्यपाल को दिए गए जो पत्र सुप्रीम कोर्ट में पेश हुए उसमें लगता है कि सरकार बनाने के लिए जरूरी विधायकों का सर्मथन नहीं था। इसीलिए हमें भरोसा है कि हम 100 फीसदी इस परीक्षण को जीतेंगे।

बहुमत परीक्षण से पहले सभी विधायकों को शपथ दिलाना जरूरी: अभिषेक मनु सिंघवी

कर्नाटक मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला ऐतिहासिक: अभिषेक मनु सिंंघवी

अभिषेक मनु सिंंघवी ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के मुताबिक येदियुरप्पा विश्वासमत से पहले कोई भी नीतिगत फैसला नहीं ले सकते। राज्यपाल द्वारा किसी भी दल को सरकार द्वरा न्यौता देने के बारे में सुप्रीम कोर्ट कुछ दिन बाद फिर सुनवाई करेगा। सिंघवी ने कहा कि शनिवार को प्रोटेम स्पीकर के अंतर्गत विश्वास मत का परीक्षण होगा।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने संवैधानिक नैतिकता और लोकतंत्र को बरकरार रखा: अश्वनी कुमार

कर्नाटक मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर कांग्रेस नेता अश्वनी कुमार ने प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा, “सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने संवैधानिक नैतिकता और लोकतंत्र को बरकरार रखा है। कोर्ट के इस फैसले पर जश्न मनाया जा ना चाहिए। इस फैसले से लोगों में सुप्रीम कोर्ट को लेकर विश्वास बढ़ेगा। यह फैसला बीजेपी के लिए धक्का है, जो सत्ता का उपयोग करना चाहती थी।”

सुप्रीम कोर्ट ने कल बहुमत परीक्षण का दिया आदेश

कर्नाटक मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कल यानी शनिवार को शाम 4 बजे बहुमत परीक्षण का आदेश दिया है। कोर्ट में सुनवाई के दौरान बीजेपी कल बहुमत परीक्षण कराने के पक्ष में नहीं थी। लेकिन कांग्रेस-जेडीएस इसके लिए तैयार थे।

विधानसभा में एंग्लो-भारतीय विधायक को नामित करने के राज्यपाल के फैसले पर रोक

सुप्रीम कोर्ट ने विधानसभा में एक एंग्लो-भारतीय विधायक को नामित करने के राज्यपाल के फैसले पर रोक लगा दी है। कांग्रेस ने इस पर रोक लगाने की मांग की थी।

सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस-जेडीएस के विधायकों को सुरक्षा देने का आदेश दिया

कर्नाटक मामले की सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस-जेडीएस के विधायकों को सुरक्षा देने का आदेश दिया है। कोर्ट में कांग्रेस के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कोर्ट से कांग्रेस और बीजेपी विधायकों को सुरक्षा देने की मांग की ताकि विधायक बहुमत परीक्षण के लिए विधानसभा पहुंच सकें। सिंघवी की मांग पर कोर्ट ने विधायकों को सुरक्षा देने का आदेश दिया।

कल बहुमत परीक्षण के लिए कांग्रेस-जेडीएस तैयार

कोर्ट ने बीजेपी से पूछा, कल फ्लोर टेस्ट क्यों नहीं हो सकता?

कर्नाटक मामले की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई जारी है। कोर्ट ने शनिवार को बीजेपी से बहुमत साबित करने की बात कही, लेकिन बीजेपी ने इसका विरोध किया। ऐसे में कोर्ट ने बीजेपी से पूछा कि आखिर कल बहुमत परीक्षण क्यों नहीं हो सकता। वहीं कांग्रेस के वकील अभिषेक मनु सिंंघी कल बहुमत परीक्षण के लिए तैयार हैं। बहस के दौरान कांग्रेस के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि राज्यपाल कैसे बीजेपी को बहुमत सिद्ध करने का मौका दे सकते हैं, जबकि कांग्रेस-जेडीएस के पास पूरी संख्या है। सिंघवी ने यह भी कहा कि अगर कल बहुमत परीक्षण के लिए सदन को बुलाया जाता है, तो भी इस मामले में कानून सम्मत फैसला होना चाहिए कि क्या इस मामले में राज्यपाल फैसला ले सकते हैं।

बीजेपी के वकील मुकुल रोहतगी ने सुप्रीम कोर्ट को दो पत्र सौंपे

विधायकों को धमकी मिलने की वजह से हैदराबाद ले जाया गया: गुलाम नबी आजाद

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “बेंगलुरु रिजॉर्ट में ठहरे हुए विधायकों को धमकी मिल रही थी। हम उन्हें फ्लाइट से केरल ले जाना चाहते थे, लेकिन हमें इसकी इजाजत नहीं मिली। आखिरकार उन्हें बस से जाना पड़ा। क्या ही लोकतंत्र है? अब कोई संविधान पर विश्वास नहीं करेगा। लोगों को सिर्फ न्यायपालिका पर भरोसा है।”

कर्नाटक मामले की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू

कर्नाटक मामले की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हो रही है। कांग्रेस और जेडीएस ने राज्यपाल के उस फैसले को चुनौती दी है, जिसमें राज्यपाल ने कर्नाटक में सरकार गठन के लिए बीजेपी को न्यौता दिया था। कांग्रेस की ओर से बहस करने के लिए कोर्ट में वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल मौजूद हैं। वहीं मुकुल रोहतगी बीजेपी का पक्ष रख रहे हैं। पिछली सुनवाई में कोर्ट ने बीजेपी से येदियुरप्‍पा के बहुमत वाली चिट्ठी को पेश करने का आदेश दिया था।

हैदराबाद पहुंचे कांग्रेस के विधायक

बेंगलुरु से बस में देर रात रवाना हुए कांग्रेस के विधायक हैदराबाद पहुंच गए हैं। विधायकों को ताज कृष्णा होटल में ठहराया जाएगा। इससे पहले खबर आ रही थी कि विधायक पार्क हयात होटल में ठहरेंगे। इस बात की जानकारी कांग्रेस नेता डीके सुरेश ने दी थी। लेकिन अब विधायकों को ताज कृष्णा होटल में ठहराया जाएगा।

कांग्रेस ने राष्ट्रपति से मिलने का समय मांगा

कर्नाटक में मौजाद स्थिति को लेकर कांग्रेस ने राष्ट्रपति से मिलने का समय मांगा है। बताया जा रहा कि कांग्रेस राष्ट्रपति से मिलकर कर्नाटक राज्यपाल के फैसला को लेकर अपनी नाराजगी जताएगी और शिकायत भी करेगी।

येदियुरप्‍पा के बहुमत वाली चिट्ठी हम सुप्रीम कोर्ट को दिखाएंगे: मुकुल रोहतगी

कर्नाटक मामले की थोड़ी ही देर में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी। मामले की सुनवाई से पहले बीजेपी के वकील मुकुल रोहतगी ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “मैं सुप्रीम कोर्ट में उस पत्र को दिखाने जा रहा हूं, जिसे बीएस येदियुरप्पा ने राज्यपाल को सौंपा था।” उन्होंने यह भी कहा कि जब कांग्रेस और जेडीएस के विधायक रिजॉर्ट में चले गए हैं तो खरीद-फरोख्त जैसी कोई बात नहीं है।

पीएम मोदी ने एचडी देवगौड़ा को जन्मदिन की बधाई दी

पीएम नरेंद्र मोदी ने जेडीएस के अध्यक्ष और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा को उनके जन्मदिन पर बधाई दी है। आज देवगौड़ा 85 साल के हो गए। पीएम मोदी ने ट्वीट किया, “मैंने पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा से बात की और उन्हें जन्मदिन की बधाई दी। मैं उनके अच्छे स्वास्थ्य और लंबी उम्र के लिए प्रर्थना करता हूं।”

हैदराबाद के पार्क हयात होटल में ठहरेंगे कांग्रेस-जेडीएस के विधायक

बेंगलुरु से हैदराबाद के लिए बस में रवाना हुए कांग्रेस विधायकों को पार्क हयात होटल में ठहराने का इंतजाम किया गया है। डीके सुरेश ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “कांग्रेस और जेडीएस के विधायक आ रहे हैं। पार्क हयात होटल में उनके रहने के लिए सभी इंतजाम कर दिए गए हैं। हम उनका इंतजार कर रहे हैं, अगले 2 घंटे के अंदर कांग्रेस और जेडीएस के विधायक यहां पहुंचेंगे।”

हम बहुमत साबित करेंगे: बी बोम्मई

बीजेपी नेता बी बोम्मई ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “हमें नहीं पता कि गायब विधायक कहां हैं? ये लोग 3-4 दिनों से लोगों को बरगला रहे हैं। आपको मालूम है कि हम बहुमत कैसे साबित करेंगे। हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं।”

एचडी देवगौड़ा ने तिरुपति मंदिर में पूजा की

कर्नाटक में बीएस येदियुरप्पा के सीएम पद की शपथ लेने के बाद सरगर्मियां तेज हो गई हैं। येदियुरप्पा की सरकार बचेगी या रहेगी यह बहुत कुछ आज सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर निर्भर कर सकता है। इस बीच बीती रात जेडीएस नेता एचडी देवगौड़ा ने तिरुपति मंदिर में पूजा-अर्चना की।

देश भर में कांग्रेस का आज 'प्रजातंत्र बचाओ दिवस'

'लोकतंत्र बचाओ दिवस' के तहत आज देश भर में कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता देश भर के राज्य मुख्यालयों और जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन कर रहे हैं। यह प्रदर्शन कर्नाटक के राज्यपाल के उस फैसले के खिलाफ है, जिसमें उन्होंने कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन के बजाय बीजेपी को सरकार बनाने के लिए न्यौता दिया था।

इससे पहले 17 मई को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कांग्रेस मीडिया सेल के प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने 18 मई को देश भर में विरोध प्रदर्शन का ऐलान किया था। उन्होंने कहा था कि जो कुछ भी कर्नाटक में हुआ है वह लोकतंत्र के खिलाफ है। उन्होंने कहा था, “राज्यपाल के फैसले के खिलाफ भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने फैसला किया है कि वह 18 मई को देश भर के राज्य मुख्यालयों और प्रत्येक जिला मुख्यालयों में कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता ‘प्रजातंत्र बचाओ दिवस’ के तौर पर धरना प्रदर्शन करेंगे।” 17 मई को भी काई जगहों पर कांग्रेस कार्यकर्ता ने कर्नाटक के राज्यापल के खिलाफ प्रदर्शन किया था।

थोड़ी देर में हैदराबाद पहुंचेंगे कांग्रेस और जेडीएस के विधायक

कांग्रेस और जेडीएस अपने विधायकों को खरीद-फरोख्त से बचाने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रही हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए दोनों ही पार्टियां अपने विधायकों को हैदराबाद शिफ्ट कर रही हैं। खबरों के मुताबिक देर रात कांग्रेस और जेडीएस के विधायक बस से बेंगलुरु से हैदराबाद के लिए रवाना हुए थे, जो कुछ ही देर में हैदराबाद पहुंचेंगे। इससे पहले कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों को बेंगलुरु के ईगल्टन रिजॉर्ट में ठहराया गया था।

येदियुरप्पा सरकार की किस्मत का फैसला आज

कर्नाटक में सीएम बीएस येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण के बाद सुप्रीम कोर्ट आज कांग्रेस और जेडीएस की याचिका पर सुनवाई होगी। येदियुरप्‍पा के बहुमत वाली चिट्ठी कोर्ट में आज पेश की जाएगी।दोनों दलों ने बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता देने के राज्यपाल के फैसले को चुनौती दी है। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट में बुधवार रात को हुई सुनवाई के दौरान बीजेपी नेता बी एस येद्दियुरप्पा के कनार्टक के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था। साथ ही कोर्ट ने बीएस येदियुरप्पा के बहुमत वाली चिट्ठी पेश करने का आदेश दिया था।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

सबसे लोकप्रिय

अखबार सब्सक्राइब करें