करतारपुर साहिब कॉरिडोर पर भी पड़ा कोरोना वायरस का असर, श्रद्धालुओं के लिए विशेष अलर्ट जारी 

दुनिया के कई देशों के बाद कोरोना वायरस ने भारत में भी दस्तक दे दी है। देश में अब तक कोरोना के 28 केस मिल चुके हैं, जिससे पूरे देश में इसको लेकर दहशत है। इसका सीधा असर श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर पर भी पड़ा है श्रद्धालुओं को विशेष अलर्ट जारी किया गया है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

अमरीक

पूरी दुनिया और देश के साथ-साथ अब भारत का सिमाई राज्य पंजाब भी कोरोना वायरस के खतरे में आ गया है। इसका सीधा असर श्री करतारपुर साहिब गलियारे पर भी पड़ा है। पंजाब के स्वास्थ्य विभाग ने श्री करतारपुर साहिब की यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं के लिए एक विशेष अलर्ट जारी किया है। राज्य के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री बलवीर सिंह सिद्धू ने इसकी पुष्टि की है।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के फैलते खतरे के मद्देनजर करतारपुर साहिब की यात्रा में फौरी तौर पर आंशिक कमी आने लगी है। प्रतिदिन सैकड़ों श्रद्धालु इस गलियारे के जरिये पाकिस्तान जाते हैं। जबकि दूसरे देशों से हजारों श्रद्धालु और पर्यटक श्री करतारपुर साहिब गुरुद्वारे जाते हैं। लाहौर में कुछ संक्रमित पाकिस्तानी नागरिक पाए जाने की सूचना के बाद भारत के पंजाब की सरकार अतिरिक्त सावधानी बरत रही है।

पंजाब के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री बलवीर सिंह संधू ने बताया कि श्री करतारपुर साहिब गलियारे के जरिए यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं को कुछ दिन के लिए एहतेयात के तौर पर परहेज करने की सलाह दी गई है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि श्री करतारपुर साहिब में दूसरे देशों से भी लोग बड़ी तादाद में आते हैं और लाहौर में एकाधिक संक्रमित मामले सामने आने के बाद करतारपुर साहिब गलियारे पर भी खतरा बढ़ गया है, इसी के मद्देनजर श्रद्धालुओं को चौकस रहने को कहा गया है।


उन्होंने यह भी कहा कि जब तक कोरेना वायरस का खतरा बरकरार है, तब तक श्री करतारपुर साहिब गलियारा बंद करने का फैसला केंद्र सरकार के हाथों में है। संधू बताते हैं कि पंजाब का स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से चौकस है और हर अस्पताल में पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। इस बीच पंजाब में भी कोरोना वायरस को लेकर अफवाहें फैल रही हैं। ताजा अफवाह फैली कि जालंधर में तीन लोग संक्रमित पाए गए हैं, लेकिन इसकी पुष्टि नहीं हुई।

इस बीच पूरे पंजाब में लोग इसे लेकर सावधानी जरूर बरत रहे हैं। लुधियाना के शिल्पी अस्पताल के डॉक्टर गौरव खन्ना ने बताया कि मौसम के बदलते रूप से सामान्य बीमारियों के मरीज भी ज्यादा सावधानी बरते हुए चेकअप के लिए आ रहे हैं। रोज ऐसे मरीज बड़ी तादाद में मिल रहे हैं जो कोरोना वायरस से भयभीत हैं, लेकिन राज्य में फिलहाल तक एक भी मामले की पुष्टि नहीं हुई है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia