'उत्तराखंड में युवाओं को नौकरी देने का केजरीवाल का वादा झूठा, दिल्ली के रोजगार विभाग में 84 फीसदी पद हैं खाली'

अनिल कुमार ने कहा "दिल्ली के सीएम अगले विधानसभा चुनाव के लिए, उत्तराखंड में अपना राजनीतिक स्वार्थ साधने के लिए 6 गांरटी कार्यक्रमों को लागू करने के झूठे वायदे कर उत्तराखंडवासियों को दिल्लीवालों की तरह धोखा देने की आधारशिला रख रहे हैं।"

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमिटी ने सोमवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री पर झूठ बोलने का आरोप लगाया। प्रदेश अध्यक्ष अनिल कुमार ने कहा "दिल्ली के सीएम अगले विधानसभा चुनाव के लिए, उत्तराखंड में अपना राजनीतिक स्वार्थ साधने के लिए 6 गांरटी कार्यक्रमों को लागू करने के झूठे वायदे कर उत्तराखंडवासियों को दिल्लीवालों की तरह धोखा देने की आधारशिला रख रहे हैं।" दिल्ली के मुख्यमंत्री ने रविवार को उत्तराखंड के हल्द्वानी में वादा किया कि राज्य में रोजगार बढ़ाया जाएगा। सरकार बनने पर छह माह में एक लाख नौकरी दी जाएंगी। इसके अलावा कई अन्य वादे भी किए।

इन सभी वादों को दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष ने आम आदमी पार्टी को आड़े हाथों लिया और सीएम केजरीवाल पर झूठ बोलने का आरोप भी लगाया।

प्रदेश अध्यक्ष ने एक आरटीआई का हवाला देते हुए बताया कि दिल्ली में 7 वर्षो के शासन में केवल 440 नौकरियां रोजगार विभाग ने दीं। वहीं दिल्ली सरकार के रोजगार कार्यालय में ही 84 प्रतिशत पद रिक्त पड़े हैं। जबकि झूठे वादे करने वाले केजरीवाल ने उत्तराखंड में पलायन रोकने के लिए रोजगार व पलायन मंत्रालय का गठन करने की बात कर रहे हैं।

उन्होंने सवाल किया, "सीएम केजरीवाल बताएं कि दिल्ली में 440 युवाओं में से कितने उत्तराखंड के युवाओं को रोजगार दिया गया?" प्रदेश अध्यक्ष द्वारा साझा की गई आरटीआई की कॉपी के मुताबिक,दिल्ली में युवाओं को कोविड काल में प्राईवेट संस्थाओं में नौकरी दिलाने के लिए एक जॉब पोर्टल शुरू हुआ था जिसमें 13,27,061 युवाओं के आवेदन करने के बावजूद (0.03 फीसदी) सिर्फ 3896 युवाओं को रोजगार दिया गया है।

अनिल कुमार ने मांग की है कि मुख्यमंत्री जॉब पोर्टल पर आवेदन करने वाले 13,27,061 बेरोजगार युवाओं को तुरंत प्रभाव से 7000 रुपये प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता देना शुरू करें।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia