केरल: बारिश और बाढ़ से भीषण तबाही, अब तक 29 की मौत, सेना और नौसेना की टीमें राहत-बचाव के काम में जुटीं

केरल में भारी बारिश की वजह से इडुक्की बांध में लगातार पानी का स्तर बढ़ रहा है। जलस्तर बढ़ने की वजह से बांध के 5 और गेट खोल दिए गए हैं। गुरुवार को बांध का एक गेट 26 साल बाद खोला गया था।

By नवजीवन डेस्क

केरल में बारिश और बाढ़ का कहर जारी है। राज्य में बाढ़ और भूस्खलन की वजह से अब तक 29 लोगों की जान जा चुकी है। राज्य के ज्यादातर जिले में हर तरफ पानी ही पानी नजर आ रहा है। हजारों घर पानी में डूब गए हैं। एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, सेना और नौसेना की टीमें बड़े स्तर पर रेस्क्यू ऑपरेशन चला रही हैं। पानी में फंसे लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया जा रहा है। राहत और बचाव के काम में हेलीकॉप्टर की भी मदद ली जा रही है।

केरल में पिछले 50 सालों में पहली बार बारिश से भीषण तबाही हुई है। पिछले कई दिनों से हो रही लगातार रही बारिश की वजह से करीब 54 हजार लोग बेघर हो गए हैं। भारी बारिश की वजह से इडुक्की बांध में लगातार पानी का स्तर बढ़ रहा है। जलस्तर बढ़ने की वजह से बांध के 5 और गेट खोल दिए गए हैं। गुरुवार को बांध का एक गेट 26 साल बाद खोला गया था।

वहीं मुन्नार के रिजॉर्ट में फंसे सभी विदेशी सैलानियों को सेना ने सुरक्षित निकाल लिया है। बड़े स्तर पर सेना राज्य के बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत और बचाव के काम में जुटी हुई है। सेना ने राज्य में टूटी हुई सड़कों को बनाने का काम भी शुरू कर दिया है।

इस बीच राज्य के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण किया। हवाई सर्वेक्षण के बाद मुख्यमंत्री वायनाड पहुंचे और बाढ़ प्राभावित इलाकों का जायजा लिया।

Most Popular