जानें केंद्र ने कौन सी वैक्सीन की कितनी डोज खरीदी, कितना पड़ा रेट और किन राज्यों में कितनी खुराक पहुंची

कोविशील्ड तैयार करने वाली सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने आज बताया कि गरीबों, आम लोगों और स्वास्थ्यकर्मियों की मदद के लिए कंपनी ने पहले 100 मिलियन डोज की कीमत 200 रुपये रखी है, लेकिन इसके बाद प्राइवेट बाजार में इसका दाम 1000 रुपये होगा।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

देश में कोरोना टीकाकरण अभियान शुरू होने से आज केंद्र सरकार ने वैक्सीन की खुराकों की खरीद, कुल संख्या और उनके रेट को लेकर देश के साथ बड़ी जानकारी साझा की। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि सरकार ने कोविशील्ड की 1.1 करोड़ और कोवैक्सीन की 55 लाख खुराक खरीदी है। उन्होंने कहा कि कोविशिल्ड वैक्सीन की 1.1 करोड़ खुराक को 200 रुपये प्रति खुराक (करों को छोड़कर) की दर से सीरम इंस्टीट्यूट से खरीदा जा रहा है।

राजेश भूषण ने बताया कि इसी तरह भारत बायोटेक से कोवैक्सीन की कुल 55 लाख डोज खरीदी जा रही है। उन्होंने बताया कि करों को छोड़कर कोवैक्सीन की 38.5 लाख खुराक की लागत प्रति खुराक 295 रुपये है। लेकिन चूंकि भारत बायोटेक केंद्र सरकार को कोवैक्सीन की 16.5 लाख खुराक मुफ्त दे रहा है, इसलिए, कोवैक्सीन की लागत प्रति खुराक 206 रुपये आई है।"

इससे पहले आज ही कोविशील्ड तैयार करने वाली सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला ने बताया था कि गरीबों, आम लोगों और स्वास्थ्यकर्मियों की मदद के लिए कंपनी ने पहले 100 मिलियन डोज की कीमत 200 रुपये ही रखी है। इसके बाद प्राइवेट मार्केट में इसका दाम 1000 रुपये होगा। पूनावाला ने बताया कि कोरोना संकट से निपटने के लिए सीरम इंस्टिट्यूट 200 मिलियन कोरोना वैक्सीन सप्लाई करेगा। खबरों के मुताबिक कंपनी ने पहले ही विभिन्न देशों से इसके लिए करार कर रखा है।

इस बीच देश में बहुप्रतीक्षित कोविड-19 टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से शुरू होने वाला है। केंद्र ने अभियान के पहले चरण में लगभग 30 करोड़ लोगों का टीकाकरण करने की योजना बनाई है। इसमें स्वास्थ्य सेवा और अग्रिम पंक्ति के वर्करों को प्राथमिकता दी जाएगी, जिनकी अनुमानित संख्या लगभग तीन करोड़ है। इसके बाद टीका प्राप्त करने वालों में गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोग और बुजुर्ग शामिल हैं, जिनकी संख्या 27 करोड़ है।

ऐसे में 16 जनवरी से शुरू हो रहे अभियान से पहले राज्यों में टीके पहुंचने शुरू हो गए हैं। आज शाम चार बजे तक पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट से विभिन्न राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए कुल 54,72,000 खुराक रवाना किया जा चुका है। 14 जनवरी तक सभी जगहों पर 100 प्रतिशत खुराक पहुंच जाएगी।

आपको बता दें कि मंगलवार को राजधानी दिल्ली में कोविशिल्ड' वैक्सीन की लगभग 2.64 लाख खुराक वाली एक खेप पहुंच गई जिसे दिल्ली के एकमात्र वैक्सीन भंडारण सुविधा प्रतिष्ठान राजीव गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल (आरजीएसएसएच) तक पहुंचा दिया गया। इसी तरह मंगलवार को ही कोविड -19 वैक्सीन की 2,76,000 खुराक गुजरात के अहमदाबाद भी पहुंची, जहां से उसे गांधीनगर, भावनगर और अहमदाबाद में विभिन्न भंडारण डिपो के लिए भेज दिया गया।

वहीं मंगलवार को ही पंजाब में भी कोरोना वैक्सीन 'कोविशिल्ड' की 2.04 लाख खुराक की पहली खेप पहुंच गई। वैक्सीन को चंडीगढ़ हवाईअड्डे पर उतरा गया। अब इसे बुधवार विशेष वाहनों द्वारा विभिन्न जिलों में भेजा जाएगा। इसी तरह बिहार के लिए कोरोना वैक्सीन की पहली खेप मंगलवार को पटना पहुंच गई। पहली खेप में 54,900 शीशी पटना पहुंची हैं, जिन्हें पटना एयरपोर्ट से पूरी सुरक्षा व्यवस्था के बीच नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एनएमसीएच) भेजा गया।

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय
next