लखीमपुर हिंसा: किसानों की मांगों को योगी सरकार ने माना! मृतकों के परिजनों को 45-45 लाख और सरकारी नौकरी देने का ऐलान

एडीजी प्रशांत कुमार ने 8 दिन के अन्दर दोषियों की गिरफ्तारी का भरोसा दिया है। एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया है कि दोषियों के खिलाफ केस दर्ज हो गया है, जांच जारी है। किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में किसानों की मौत के बाद से तनाव का माहौल बना हुआ है। जानकारी के मुताबिक अब तक 8 लोगों के मारे जाने की सूचना है, जिनमें से 4 किसान बताए जा रहे हैं। इधर, विपक्ष ने भी इस हिंसा के बाद से सरकार को पूरी तरह घेर लिया है। लखीमपुर जा रहे तमाम नेताओं को सरकार ने हिरासत में ले लिया है। इन सबके बीच सरकार ने किसानों की मांगें भी मान ली है।

बताया जा रहा है कि किसानों औ प्रशासन के बीच सहमति बनी है। एडीजी लॉ एंड आर्डर प्रशांत कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि सरकार की तरफ से 45-45 लाख रुपए का मुआवजा और किसान बिमा से पांच-पांच लाख रुपये दिए जाएंगे। इसके साथ ही परिवार के एक सदस्य को उसकी योग्यता के अनुसार नौकरी दी जाएगी। इसके अलावा घायलों को 10-10 लाख रुपये की मदद दी जाएगी। किसानों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा पूरे मामले की हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज से न्यायिक जांच भी की जाएगी।

एडीजी प्रशांत कुमार ने 8 दिन के अन्दर दोषियों की गिरफ्तारी का भरोसा दिया है।एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया है कि दोषियों के खिलाफ केस दर्ज हो गया है, जांच जारी है। किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia