आरटीआई से झूठा साबित हुआ योगी आदित्याथ का दावा, 5 साल में 32 नहीं सिर्फ 18 मेडिकल कॉलेज ने यूपी में

उत्तर प्रदेश में 5 साल के दौरान 32 नए मेडिकल कॉलेज खुलवाने का योगी आदित्यनाथ का दावा झूठा है। आरटीआई जवाब से सामने आया है कि इस दौरान सिर्फ 18 नए मेडिकल कॉलेज ही खुले हैं।

Getty Images
Getty Images
user

नवजीवन डेस्क

“उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में अगले 6 महीने के दौरान मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे।“यह ऐलान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछले साल जुलाई में किया था। उन्होंने कांग्रेस और अय विपक्षी दलों पर अप्रत्यक्ष निशाना साधते हुए कहा था कि, “विडंबना है कि सरकारें उत्तर प्रदेश में 1947 से 2017 तक सिर्फ 312 नए मेडिकल कॉलेज ही बना पाईं। लेकि 2017 में हमारी सरकार आने के बाद हमने 32 नए मेडिकल कॉलेज प्रदेश में बनवाए हैं।”

योगी आदित्यनाथ के इस दावे को मानें तो देश में आबादी के लिहाज से सबसे बड़े प्रदेश में सबसे ज्यादा मेडिकल कॉलेज होने चाहिए। लेकिन आरटीआई के तहत मिले जवाब से साफ हुआ है कि यह सब यूपी सीएण का पब्लिसिटी स्टंट था और कुछ नहीं।

आरटीआई के जवाब में मेडिकल कमीशन ऑफ इंडिया ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में 2017 में जब बीजेपी की सरकार सत्ता में आई तो प्रदेश में 45 मेडिकल कॉलेज पहले से थे। जवाब में आगे कहा गया है कि, “31 जुलाई 2021 तक यूपी में मेडिकल कॉलेज की संख्या 54 है।” यानी योगी सरकार ने बीते पांच साल में सिर्फ 9 मेडिकल कॉलेज स्थापित किए, जबकि दावे तो 32 के थे। इन 9 मेडिकल कॉलेज का भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जल्दबाजी में पिछले साल 25 अक्टूबर को उद्घाटन किया है।

रोचक बात है कि मेडिकल एजुकेश (चिकित्सा शिक्षा) मुहैया कराने वाले मेडिकल कॉलेजों को मान्यता देने वाली संस्था मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया ने इस दावे को नकारते हुए आरटीआई अर्जी को उत्तर प्रदेश मेडिकल काउंसिल को भेज दिया था।

कांग्रेस कार्यकर्ता और आरटीआई एक्टिविस्ट तेजपाल का कहना है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने सभी बड़े अखबारों में फुल पेज विज्ञाप छपवाएं हैं जिसमें बीजेपी सरकार की उपलब्धियों का गुणगान किया है। लेकिन लोगों को आज भी याद है कि किस तरह गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी से सैकड़ों बच्चों की जान गई थी। तेजपाल ने कहा कि, “अगर प्रधानमंत्री ने जिन मेडिकल कॉलेजों का उद्घाटन किया है उन्हें भी सूची में शामिल करलें तो भी राज्य के मेडिकल कॉलेजों की संख्या 63 ही पहुंचेगी जबकि बीजेपी सरकार हर जिले में मेडिकल कॉलेज का दावा कर रही है।”

हालांकि एमसीआई की संशोधित सूची में उत्तर प्रदेश में 66 मेडिकल कॉलेजों का दावा किया गया है। फिलहाल कर्नाटक ऐसा राज्य है जहां सबसे ज्यादा संख्या में मेडिकल कॉलेज हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia