उत्तराखंड के उत्तरकाशी में आसमान से बरसी आफत! आसमानी बिजली गिरने से 350 बकरियों की मौत

उत्तराखंड के उत्तरकाशी के विकासखंड डुंडा के खट्टखाल गांव के समीप मथानाऊ तोक के जंगल में आकाशीय बिजली गिरने से करीब 350 बकरियों की मौत हो गई।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

उत्तरकाशी में मथानाऊ तोक के जंगल में आकाशीय बिजली गिरने के कारण करीब 350 बकरियों की मौत हो गई। ग्रामीणों ने घटना की सूचना प्रशासन को दे दी है। रविवार को प्रशासन और पशु चिकित्सा विभाग की टीम मौके पर पहुंचेगी, जिसके बाद ही क्षति का आकलन और मौत के कारणों का पता चल सकेगा।

उत्तराखंड में एक बार फिर मौसम का मिजाज अचानक बदल गया। जहां पर्यटन धनौल्टी में देर शाम को जमकर ओले पड़े, खुमानी, आडु और नाशपति में ओलावृष्टि से फसलों को काफी नुकसान हुआ। उधर, विकासखंड डुंडा के खट्टखाल गांव के समीप मथानाऊ तोक के जंगल में आकाशीय बिजली गिरने से करीब 350 बकरियों की मौत हो गई।

आपको बता दें कि उत्तरकाशी में बासू क्षेत्र के ग्रामीण ग्रीष्मकाल शुरू होते ही अपनी बकरियां मैदान से पहाड़ी क्षेत्र की ओर ले जा रहे थे। ग्रामीण प्रथम सिंह, रामभगत सिंह और संजीव सिंह की करीब एक हजार से बारह सौ बकरियां मैदानी क्षेत्रों के जंगलों से पहाड़ी क्षेत्रों की ओर आ रही थी। रात को वे तीन ग्रामीण अपनी बकरी लेकर डुंडा के खखाल के समीप मथानाऊ तोक पहुंचे। रात करीब 9 बजे अचानक मौसम खराब हो गया और इस दौरान आसमानी बिजली गिरी, जिसकी चपेट में आने से करीब 350 बकरियों की मौत हो गई।

ग्रामीणों ने आसमान से बिजली गिरने और बकरियों की मौत की सूचना भटवाड़ी ब्लॉक प्रमुख विनीता रावत को दी। ब्लॉक प्रमुख विनीता रावत ने जिलाधिकारी और जिला आपदा प्रबंधन विभाग को घटना से अवगत कराया। तहसीलदार डुंडा प्रताप सिंह चौहान ने कहा आसमान से बिजली गिरने की वजह से बकरियों की मौत की सूचना मिली है। टीम वहां का दौरा करेगी।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;