मुख्य समाचार

कैश संकट LIVE: कांग्रेस का आरोप, बीजेपी ने कर्नाटक चुनाव के लिए जमा किए 2000 रुपये के नोट

सिर्फ कुछ इलाकों में है नकदी का संकट, वह भी लॉजिस्टिक्स के कारण : आरबीआई

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने कहा है कि आरबीआई के वॉल्ट्स और करेंसी चेस्ट्स में पर्याप्त नकदी हैं और देश के चारों नोट छापने वाले प्रिटिंग प्रेस में छपाई बढ़ा दी गई है।

नकदी का कोई संकट नहीं, आरबीआई ने जारी किया स्पष्टीकरण

बीजेपी ने कर्नाटक चुनाव के लिए जुटाए 2000 रुपये के नोट: कांग्रेस

कांग्रेस ने आरोप लगाया कि बीजेपी कर्नाटक विधानसभा चुनाव में इस्तेमाल करने के लिए 2000 रुपये के नोट जमा कर लिए हैं, जिसके कारण इन नोटों की कमी हो गई है। कांग्रेस ने यह बयान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के उस बयान की प्रतिक्रिया में दिया है, जिसमें उन्होंने 2000 रुपये के नोटों की कमी को साजिश करार दिया है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने यहां जारी एक बयान में कहा, "2000 रुपये के नोटों की कमी इसलिए हो रही है, क्योंकि भाजपा की केंद्र सरकार कर्नाटक चुनाव को प्रभावित करने के लिए वहां बड़े पैमाने पर 2000 रुपये के नोट का उपयोग कर रही है।" (आईएएनएस की रिपोर्ट)

आने वाले दिनों में दिल्ली-एनसीआर में हो सकती है कैश की किल्लत

दिल्ली-एनसीआर में कैश संकट गहरा सकता है और एटीएम खाली हो सकते हैं। खबरों के मुताबिक, दिल्ली समेत पूरे एनसीआर में पिछले 6 दिनों से बैंकों और एटीएम में कैश की सप्लाई नहीं हुई है। ऐसे में आने वाले दिनों में दिल्ली-एनसीआर में कैश की कमी हो सकती है।

मध्य प्रदेश ही नहीं पूरे देश में नगदी की कमी है: जयंत कुमार मलैया

देश में कैश संकट को लेकर वकील प्रशांत भूषण ने बीजेपी पर साधा निशाना

वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने कैश संकट को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, “अरुण जेटली ने कहा कि एटीएम में कैश की दिक्कत कुछ दिनों के लिए है। शायद वह जानते हैं कि कर्नाटक चुनाव के बाद कैश वापस आ जाएगा। बीजेपी हजारों करोड़ रुपये वहां खर्च कर रही है।”

वकील प्रशांत भूषण का ट्वीट

वकील प्रशांत भूषण का ट्वीट

आर्थिक मामलों के सचिव एससी गर्ग ने कहा, अगले कुछ दिनों में कैश संकट खत्म हो जाएगा

देश में कैश संकट पर वित्त विभाग के आर्थिक मामलों के सचिव एससी गर्ग ने कहा, “अगले कुछ दिनों में 500 रुपये के नोट हर दिन करीब ढाई हजार करोड़ रुपये की आपूर्ति करेंगे। एक महीने में आपूर्ति लगभग 70 हजार से 75 हजार करोड़ होगी। 500 के नोट हर दिन 500 करोड़ रुपये छपते हैं। हमने 5 गुणा ज्यादा इस उत्पादन को बढ़ाने के लिए कदम उठाए हैं। ऐसे में जल्द ही देश में कैश संकट खत्म हो जाएगा।”

बीजेपी और उनके साथी देश का पैसा खा गए इसलिए एटीएम में पैसा नहीं है: कांग्रेस

देश के कई राज्यों में कैश संकट के बीच कांग्रेस ने इसे लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है। एटीएम में नगदी नहीं होने को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार की कड़ी निंदा की है और देश में कैश संकट के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मीडिया से बात करते हुए कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने कहा, “नोटबंदी के बाद देश का जो पैसा बैंकों में जमा हुआ था, जिसकी गिनती आज तक चल रही है, वो या तो बीजेपी के पास है या उसके साथियों के पास है। बीजेपी की संपत्ति 80 फीसदी बढ़ गई है, जय शाह की संपत्ति 16 हजार गुना बढ़ गई है।”

जयवीर शेरगिल ने कहा कि बीजेपी और उनके साथी इस देश का पैसा खा गए इसलिए आज देश के एटीएम में पैसा नहीं है। उन्होंने विदेश दौरे को लेकर पीएम मोदी पर हमला बोला। उन्होंने कहा बिहार, राजस्थान, तेलंगाना और झारखंड समेत कई राज्यों से खबर आ रही है कि देश के बैंकों के पास पैसा ही नहीं है। शेरगिल ने कहा कि साहेब विदेश घूम रहे हैं और देश की जनता पैसे के लिए भटक रही है। उन्होंने आगे कहा, हिन्दुस्तान 'कैशलेस' हो गया है और बीजेपी और उनके मित्र 'कैशरिच' हो गए हैं।

देश में कैश संकट गहराने पर राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर कसा तंज

देश में कैश संकट गहराने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा है। उन्होंने ट्वीट कर काव्यात्मक शैली में पीएम मोदी की आलोचना की। कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट किया, “समझो अब नोटबंदी का फरेब, आपका पैसा निरव मोदी की जेब, मोदीजी की क्या ‘माल्या’ माया, नोटबंदी का आतंक दोबारा छाया, देश के एटीएम सब फिर से खाली, बैंकों की क्या हालत कर डाली।”

नगदी से जुड़ी परेशानी को दूर करने की सरकार कोशिश कर रही है: वित्त मंत्रालय

यह वित्तीय आपातकाल है: डेरेक ओ ब्रायन

कैश संकट: राहुल गांधी ने कहा, पीएम मोदी ने बैंकिंग प्रणाली को बर्बाद किया

देश में कैश संकट को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा पीएम मोदी ने बैंकिंग प्रणाली को बर्बाद किया है। उन्होंने कहा, “नीरव मोदी 30 हजार करोड़ रुपये लेकर भाग गया और पीएम मोदी ने एक शब्द नहीं कहा। हमें लाइन में खड़े होने के लिए मजबूर किया गया और उन्होंने (प्रधानमंत्री) 500-1000 रुपये के नोट हमारे पॉकेट से छीनकर नीरव मोदी के पॉकेट में डाल दिया।”

कैश संकट: एसबीआई के चेयरमैन ने कहा, अगले हफ्ते तक सब ठीक हो जाएगा

देश के कई राज्यों के एटीएम में नगदी नहीं होने पर एसबीआई के चेयरमैन रजनीश कुमार का बयान आया है। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि अगले हफ्ते तक कैश की किल्लत दूर हो जाएगी। उन्होंने कहा, “यह परिस्थिति कोई नई नहीं है, ऐसा होता रहता है। आरबीआई ने 500 रुपये के नोट का सर्कुलेशन बढ़ाने के लिए कहा है, ऐसा होते ही अगले हफ्ते तक हालात सुधर जाएंगे।”

एटीएम में नगदी नहीं होने पर मीसा भारती ने उठाए सवाल

हैदराबाद: एटीएम में नगदी की कमी

उत्तर प्रदेश: वाराणसी में एटीएम में नगदी नहीं मिलने से लोग परेशान

मध्य प्रदेश: एटीएम में कैश की कमी से लोग परेशान

एटीएम में नगदी नहीं होने पर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर उठाए सवाल

झारखंड में नगदी की दिक्कत है: डॉ. अजोय कुमार

सिर्फ बीजेपी के पास ही नगद बढ़ा हुआ है: सीताराम येचुरी

खाली एटीएम नोटबंदी के दिनों की याद दिला रहे: ममता बनर्जी

राज्यों में एटीएम मशीनों में नकदी नहीं होने की खबरों के बीच पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि यह स्थिति उन्हें नोटबंदी के दिनों की याद दिला रही है। उन्होंने पूछा, क्या देश में 'वित्तीय आपातकाल' चल रहा है?
ममता बनर्जी ने ट्वीट किया, "कई राज्यों में एटीएम मशीनों में नकदी नहीं होने की रिपोर्ट देख रही हूं। बड़े नोट गायब हैं। यह नोटबंदी के दिनों की याद दिला रहा है। क्या देश में वित्तीय आपातकाल चल रहा है। नकदी की कमी, नकदरहित एटीएम मशीनें।"

दिल्ली: एटीएम में कैश नहीं होने से लोग परेशान

गुजरात के बड़ोदरा में एटीएम में कैश नहीं होने से लोग परेशान

बिहार में ज्यादातर एटीएम खाली, कैश के लिए लोग परेशान: आईएएनएस

बिहार की राजधानी पटना समेत राज्य के दूसरे हिस्सों में ज्यादातर एटीएम में कैश नहीं है। ऐसे में लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। एक अनुमान के मुताबिक, राज्य के 75 फीसदी से अधिक एटीएम में पैसा नहीं है, जिस कारण एटीएम बंद पड़े हैं। पटना में ज्यादातर इलाकों के एटीएम में कैश नहीं रहने के कारण पैसे के लिए लोग भटक रहे हैं। लोगों का कहना है कि जिस एटीएम में पैसा है, वहां लंबी कतारें लगी हुई हैं।

छत्तीसगढ़ में जल्द से जल्द कैश की कमी को दूर किया जाएगा: रमन सिंह

एटीएम में कैश की कमी पर वित्त मंत्री अरुण जेटली की सफाई

नोटबंदी के बाद देश में फिर गहराया ‘कैश संकट’

नोटबंदी के बाद देश में एक बार फिर ‘कैश संकट’ गहरा गया है। कई राज्यों में एटीएम खाली हो गए हैं। एटीएम में नगदी नहीं मिलने से लोग परेशान हो रहे हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

सबसे लोकप्रिय