मध्य प्रदेश: जिंदगी की जंग हार गया 8 साल का लोकेश, 24 घंटे बाद बोरवेल से निकाला गया बाहर, डॉक्टरों ने किया मृत घोषित

यह मामला लटेरी तहसील के आनंदपुर गांव का है। मंगलवार को आठ साल का लोकेश खुले बोरवेल में गिर गया था। यह बच्चा अपने मां-बाप के साथ खेत में गया था। खेलते समय यह हादसा हुआ था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

मध्य प्रदेश के विदिशा में 60 फीट गहरे बोरवेल में गिरा 8 साल का लोकेश जिंदगी की जंग हार गया है। उसे बचाया नहीं जा सका है। 24 घंटे बाद बच्चे को बोरवेल से बाहर निकाला जा सका। इसके बाद बच्चे को मेडिकल टीम अस्पताल लेकर पहुंची, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

इस संबंध में विदिशा के डीएम उमाशंकर भार्गव ने जानकारी देते हुए कहा कि हमने इस अभियान को 24 घंटे से पहले खत्म किया, लेकिन यह दुखद है कि हम लोकेश को बचा नहीं पाए। मुख्यमंत्री ने इस पर संवेदना व्यक्त की है और लोकेश के परिजनों को 4 लाख की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। जो भी दोषी है उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

यह मामला लटेरी तहसील के आनंदपुर गांव का है। मंगलवार को आठ साल का लोकेश खुले बोरवेल में गिर गया था। यह बच्चा अपने मां-बाप के साथ खेत में गया था। खेलते समय यह हादसा हुआ।

सूचना मिलने के बाद पुलिस और प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची थी। इसके बाद रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया था। बच्चे को रेस्क्यू करने के लिए एसडीआरएफ की 3 तीन और एनडीआरएफ की 1 टीम जुटी हुई थी। इस दौरान बोरवले में बच्चे को ऑक्सीजन भी सप्लाई की जा रही थी। बड़े स्तर पर रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया।


स्थानीय लोगों के मुताबिक, जिस जगह बोरवेल हैं वहां पर धनिया की खेती की गई है। यही वजह है कि बच्चे को बोरवेल दिखाई नहीं दिया और वह उसमें गिर गया।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;