मध्य प्रदेश: सतना में रेप का शिकार हुई बच्ची की हालत गंभीर, दिल्ली के एम्स में कराया जाएगा भर्ती

1 जुलाई को सतना के पन्ना गांव में 4 साल की बच्ची रेप का शिकार हुई थी। आरोप है कि गांव का ही रहने वाला महेंद्र सिंह नाम का युवक बच्ची को उस वक्त उठा ले गया था, जब वह रात में सो रही थी। गांव से कुछ देर ले जाने के बाद उसने बच्ची के साथ दुष्कर्म किया।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

मध्य प्रदेश के सतना जिला अस्पताल में भर्ती 4 साल की बच्ची को दिल्ली एम्स में भर्ती कराए जाने का फैसला लिया गया है। बच्ची की हालत गंभीर बनी हुई है, ऐसे में उसे एयर एंबुलेंस के जरिए दिल्ली लाया जाएगा।

1 जुलाई को सतना के पन्ना गांव में 4 साल की बच्ची रेप की शिकार हुई थी। आरोप है कि गांव का ही रहने वाला महेंद्र सिंह नाम का युवक बच्ची को उस वक्त उठा ले गया था, जब वह रात में सो रही थी। गांव से कुछ देर ले जाने के बाद उसने बच्ची के साथ दुष्कर्म किया और मौके पर ही मासूम को छोड़कर फरार हो गया।

वारदात को अंजाम देने से पहले बच्ची के पिता से मिलने आरोपी उनके घर पहुंचा था। बच्ची के पिता से मिलने के बाद वह चला गया था। बताया जा रहा है उसी दिन आरोपी दूसरी बार करीब रात को 11:30 बजे दोबारा बच्ची के घर पहुंचा और सोती हुई मासूम को उठा ले गया और घर से कुछ दूर लेजाकर घिनौनी वारदात को अंजाम दिया।

शक के आधार पर जब बच्ची के परिजन महेंद्र सिंह के घर पहुंचे तो उसने भागने की कोशिश की। गांव के लोगों ने आरोपी को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने बताया कि जब आरोपी को हिरासत में लिया गया तब वह शराब के नशे में था। फिलहाल केस दर्ज कर पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

इस बीच मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुख्य न्यायाधीश को पत्र लिखा है, जिसमें रेप जैसे मामलों की सुनवाई के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन की मांग की गई है।

सीएम शिवराज ने खत में लिखा है, “रेप की कुछ घटनाओं के बाद देश में नाराजगी का माहौल है। मैं यह मानता हूं कि बच्चियां दुर्गा का रूप होती हैं। मध्य प्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य है, जिसने 12 साल से कम उम्र की नाबालिगों के साथ रेप के दोषियों को फांसी का सजा दिए जाने का प्रावधान किया है।”

Published: 3 Jul 2018, 1:25 PM
लोकप्रिय
next