मध्य प्रदेश: विदिशा में ढाई साल की बच्ची बोरवेल में गिरी, 15 फीट गड्ढे में अटकी जान, बचाव कार्य जारी

पथरिया थाना क्षेत्र के कजरी बरखेड़ा गांव में मंगलवार को ढाई साल की अस्मिता खेलते हुए आंगन में खुले पड़े बोरवेल के गड्ढे में जा गिरी और वह लगभग 15 फीट इस गड्ढे में है।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

मध्य प्रदेश के विदिशा जिले में खुले पड़े बोरवेल के गड्ढे में एक ढाई साल की बच्ची गिर गई। बच्ची को सुरक्षित निकालने के लिए राहत और बचाव कार्य अभियान शुरू हो गया है।

मिली जानकारी के अनुसार, जिले के पथरिया थाना क्षेत्र के कजरी बरखेड़ा गांव में मंगलवार को ढाई साल की अस्मिता खेलते हुए आंगन में खुले पड़े बोरवेल के गड्ढे में जा गिरी और वह लगभग 15 फीट इस गड्ढे में है।

इस घटना की जानकारी मिलते ही प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंच गया है और जेसीबी मशीन की मदद से खुदाई कार्य किया जा रहा है, वहीं रस्सी के सहारे बच्ची को भी बाहर निकालने के प्रयास जारी हैं। जिस गड्ढे में अस्मिता गिरी है उसके पास उसका पिता बैठा हुआ है और वह लगातार बेटी को किसी तरह की परेशानी न आए और गर्मी न लगे, इसके लिए कपड़े के गमछे से हवा बेटी तक पहुंचाने की कोशिश में लगा है।


इस घटना की तस्वीर साझा करते हुए कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव ने कहा है कि आखिर कब रुकेंगी ऐसी घटनाएं। बच्चों की सलामती के लिए उन्होंने प्रार्थना की है। साथ ही कहा है कि विदिशा जिले की सिरोंज तहसील के ग्राम कजरी बरखेड़ा में अस्मिता बोरवेल के गड्ढे में गिर गई है। हम सब मिलकर उसकी सलामती के लिए प्रार्थना करें, स्थानीय प्रशासन से अनुरोध है कि बच्ची को सकुशल निकाले जाने के लिए हर संभव प्रयास करें। सवाल उठ रहा है कि आखिर कब रुकेगी इस तरह की घटनाएं ?

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;