महाराष्ट्रः पत्नी से हुई लड़ाई तो व्यक्ति ने अपने घर में लगाई आग, पड़ोस के 10 घर भी जलकर हुए राख

यह घटना मझगांव गांव में सोमवार देर शाम उस समय घटी, जब संजय पाटिल और उनकी पत्नी पल्लवी के बीच कुछ घरेलू मतभेदों को लेकर झगड़ा हो गया। पत्नी से झगड़े के बाद गुस्से में लाल-पीला हुआ पाटिल अचानक रसोई में गया और उसने अपने घर को आग के हवाले कर दिया।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

महाराष्ट्र के सतारा में एक अजीबोगरीब घटना देखने को मिली, जब एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी के साथ हुए विवाद के बाद अपने घर में आग लगा दी, जिसके बाद आग की लपटें फैलने लगी, जिससे आसपास के 10 घर भी जलकर खाक हो गए। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

मल्हारपेठ पुलिस थाने के जांच अधिकारी उत्तम भापकर ने कहा कि यह घटना मझगांव गांव में सोमवार देर शाम उस समय घटी, जब संजय पाटिल और उनकी पत्नी पल्लवी के बीच कुछ घरेलू मतभेदों को लेकर झगड़ा हो गया। पत्नी से झगड़े के बाद गुस्से में लाल-पीला हुआ पाटिल अचानक रसोई में गया और उसने अपने घर को आग के हवाले कर दिया। इस बीच उसकी पत्नी मदद के लिए चिल्ला रही थी।

कुछ ही मिनटों में रसोई में रखा गैस सिलेंडर आग की लपटों में घिर गया और फट गया, जिसके बाद आग भड़क उठी और उनके घर से सटे पास के घरों में फैल गई। घबराए हुए पड़ोसियों ने झगड़ा कर रहे दंपति को बाहर निकालने में कामयाबी हासिल की और अपने घरों को भी खाली कर दिया, जिसमें किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। हालांकि, उन्होंने आग बुझाने की पूरी कोशिश की, लेकिन मंगलवार सुबह तक उनके घर पूरी तरह जलकर राख हो गए थे।


भापकर ने बताया कि स्थानीय ग्रामीणों के अनुसार, लगभग 9-10 घर पूरी तरह से जलकर खाक हो गए हैं और अन्य को कुछ नुकसान हुआ है, जिनकी कीमत लगभग 50 लाख रुपये है। वहीं
स्थानीय लोगों ने कहा कि जिन लोगों के घर जले हैं, वे शुरुआती सर्दी में बेघर हो गए हैं, इसलिए गुस्साए ग्रामीणों ने पाटिल को पकड़कर पुलिस को सौंपने से पहले उसकी पिटाई कर दी। लोगों ने बताया कि इस घटनाक्रम के बाद उसकी पत्नी ने पास के एक रिश्तेदार के परिवार के पास शरण ली है।

पुलिस अधिकारी उत्तम भापकर ने कहा कि पाटिल को सतारा की एक अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे दो दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। इसके साथ ही पुलिस घर में आगजनी के पीछे की मंशा और पूरे घटनाक्रम के पहलुओं पर गौर करते हुए मामले की जांच कर रही है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia