महाराष्ट्रः मराठी मुसलमानों ने उद्धव ठाकरे से की मुलाकात, निकाय चुनाव में पूर्ण समर्थन का किया एलान

एमएमएसएस के तहत लगभग 80 बड़े और छोटे एनजीओ हैं, जिनमें कई सामाजिक-सांस्कृतिक-शैक्षिक संस्थाएं हैं, जिसमें मुंबई, कोंकण, पश्चिमी और उत्तरी महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, विदर्भ और प्रमुख शहर में महिलाओं और युवाओं सहित अल्पसंख्यक समुदाय के हजारों सदस्य शामिल हैं।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

महाराष्ट्र में आगामी निकाय चुनावों से पहले मराठी मुस्लिम सेवा संघ (एमएमएसएस) के बैनर तले प्रमुख मराठी मुसलमानों और गैर सरकारी संगठनों के एक प्रतिनिधिमंडल ने पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात की और शिवसेना-उद्धव बालासाहेब ठाकरे को अपना पूरा समर्थन देने का ऐलान किया। प्रतिनिधिमंडल में एमएमएसएस अध्यक्ष फकीर एम ठाकुर, नूरुद्दीन नाइक, इस्माइल समदुले, डॉ ए.आर.खान, कैप्टन अकबर खल्फे और राज्य भर से अन्य प्रमुख सदस्य मौजूद रहे।

एमएमएसएस अध्यक्ष फकीर एम ठाकुर ने कहा, जिस तरह से उद्धव ठाकरे जी को जून में सीएम के रूप में बाहर करने के लिए मजबूर किया गया और दिवंगत बालासाहेब ठाकरे की शिक्षाओं को नष्ट करने के लिए स्वार्थी विद्रोही नेताओं के समूह के प्रयासों पर हमने गहरा दुख व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि अपने सभी सदस्यों और अन्य संबद्ध संगठनों के बीच विचार-विमर्श करने के बाद एमएमएसएस ने राज्य के गौरव, एकता, विकास और प्रगति की राजनीति के हित में ठाकरे की सभी पहलों के लिए बिना शर्त समर्थन देने का फैसला किया।


उद्धव ठाकरे ने एमएमएसएस प्रतिनिधिमंडल का गर्मजोशी से स्वागत किया और उनके साथ बातचीत की और समर्थन के लिए आभार व्यक्त किया। ठाकुर ने कहा कि एमएमएसएस नेताओं ने यह भी कहा कि उन्हें विश्वास है कि आगामी निकाय चुनावों में लोग राज्य और देश में चल रही सांप्रदायिक राजनीति को हराने के लिए शिवसेना-यूबीटी और उसके सहयोगियों को अपना पूरा समर्थन देंगे।

साल 2014 में स्थापित, एमएमएसएस के बैनर तले लगभग 80 बड़े और छोटे एनजीओ हैं, जिनमें कई सामाजिक-सांस्कृतिक-शैक्षिक संस्थाएं हैं, जिसमें मुंबई, कोंकण, पश्चिमी और उत्तरी महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, विदर्भ और प्रमुख शहर में महिलाओं और युवाओं सहित अल्पसंख्यक समुदाय के हजारों सदस्य शामिल हैं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia