महाराष्ट्र के मंत्री छगन भुजबल को 12 बार मिली जान से मारने की धमकी, आए 12 मैसेज

भुजबल को मौजूदा ओबीसी आरक्षण से कोटा देने के अपने कड़े विरोध के कारण मराठा समुदाय का क्रोध झेलना पड़ा है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

महाराष्ट्र के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री गन भुजबल को उनके फोन पर लगातार 12 बार जान से मारने की धमकी वाले संदेश मिले हैं। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

एक प्रमुख ओबीसी नेता, भुजबल को मौजूदा ओबीसी आरक्षण से कोटा देने के अपने कड़े विरोध के कारण मराठा समुदाय का क्रोध झेलना पड़ा है।

अजंता-एलोरा गुफा मंदिरों के लिए प्रसिद्ध इस शहर के पुंडलिक नगर पुलिस स्टेशन में एनसीपी (अजित पवार) समूह के नेता मनोज घोडाके ने शिकायत दर्ज कराई है।

नासिक में एक सहयोगी ने कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है, मंत्री अपने नियोजित दौरे के कार्यक्रम के साथ आगे बढ़ रहे हैं।

अधिकारियों ने कहा कि सौदागर सतनाक नाम के एक व्यक्ति ने कथित तौर पर अपने मोबाइल नंबर से एक के बाद एक दर्जनों संदेश भेजे हैं, इसमें भुजबल को उनके हालिया बयानों के लिए खत्म करने की धमकी दी गई है।

शिवबा संगठन के नेता मनोज जारांगे-पाटिल और अन्य मराठा समूहों द्वारा अगस्त में अपना आरक्षण आंदोलन शुरू करने के बाद मंत्री को कुछ हफ्तों से नियमित रूप से जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं।

'ओबीसी के मसीहा' माने जाने वाले 76 वर्षीय भुजबल इस समय हाल की बेमौसम बारिश/ओलावृष्टि से तबाह हुए कुछ इलाकों के दौरे पर हैं और उन्हें अपने मराठा विरोधी रुख के लिए विभिन्न गांवों में बड़े पैमाने पर विरोध का सामना करना पड़ रहा है, उनके काफिले को रोक दिया गया और उनके जाने के बाद स्थानीय लोगों ने सड़कों को गोमूत्र से शुद्ध किया।

एहतियात के तौर पर, महाराष्ट्र और मुंबई पुलिस ने व्यक्तिगत सुरक्षा कवर बढ़ा दिया है और मुंबई और नासिक में भुजबल के घर और कार्यालयों के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;