महात्मा गांधी के पोते अरुण मणिलाल गांधी का निधन, 89 साल की उम्र में ली आखिरी सांस

महात्मा गांधी के पोते अरुण मणिलाल गांधी का 89 वर्ष की आयु में कोल्हापुर में निधन हो गया। उनके बेटे ने यह जानकारी दी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

सुशीला और मणिलाल गांधी के बेटे और महात्मा गांधी के पोते अरुण गांधी का मंगलवार सुबह महाराष्ट्र के कोल्हापुर में निधन हो गया। उनके बेटे ने यह जानकारी दी। वह 89 वर्ष के थे और उनके परिवार में उनके बेटे तुषार, बेटी अर्चना, चार पोते और पांच परपोते हैं। खुद को 'पीस फार्मर' बताने वाले अरुण गांधी का अंतिम संस्कार आज शाम कोल्हापुर में होगा।

उन्होंने बेथानी हेगेडस के साथ 'कस्तूरबा, द फॉरगॉटन वुमन', 'ग्रैंडफादर गांधी' और इवान तुर्क द्वारा सचित्र, 'द गिफ्ट ऑफ एंगर: एंड अदर लेसन फ्रॉम माई ग्रैंडफादर महात्मा गांधी' आदि किताबें लिखीं।


कौन हैं अरुण मणिलाल गांधी?


महात्मा गांधी के दूसरे बेटे मणिलाल गांधी के बेटे अरुण मणिलाल गांधी हैं। उनका जन्म 14 अप्रैल 1934 को दक्षिण अफ्रीका के डरबन में हुआ था। उनके पिता यहां छपने वाले अखबार इंडियन ओपिनियन के संपादक रहे, जबकि मां इसी अखबार में पब्लिशर रहीं। अरुण गांधी ने बाद में अपने दादा की राह को चुनते हुए सामाजिक-राजनीतिक मुद्दों पर कार्यकर्ता के तौर पर काम किया।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */