पीएम से मुलाकात के बाद ममता बनर्जी का बयान: वैक्सीन और विकास प्रोजेक्ट पर हुई बात, पेगासस मामले की जांच कराए सरकार

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री से मिलकर वैक्सीन का कोटा बढ़ाने और बंगाल का नाम बदलने की अपील की है। मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि सरकार को पेगासस मामले की जांच करानी चाहिए। ममता कल राहुल गांधी और सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगी।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने पश्चिम बंगाल के लिए अधिक मात्रा में कोरोना वैक्सीन मांगी। पश्चिम बंगाल का नाम बदले जाने का विषय प्रधानमंत्री के सामने उठाया। साथ ही ममता बनर्जी ने विभिन्न विकास कार्यों एवं टैक्स आदि के विषय भी प्रधानमंत्री के समक्ष रखे।

तीसरी बार मुख्यमंत्री बनने के उपरांत ममता बनर्जी पहली बार दिल्ली पहुंची हैं। उन्होंने मंगलवार को शाम करीब 4 बजे प्रधानमंत्री से मुलाकात की। उनकी मुलाकात करीब 45 मिनट तक चली। मुलाकात के बाद ममता बनर्जी ने कहा, "मैंने प्रधानमंत्री से समय मांगा था। तीसरी बार बंगाल चुनाव में जनता के आशीर्वाद से हमारी सरकार आई है। इसके बाद अब हम प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति के साथ मुलाकात करने के लिए आए हैं। यह एक सामान्य शिष्टाचार मुलाकात थी। यह हमारे संविधान का एक प्रोटोकॉल है।"

ममता बनर्जी ने कहा, "इस मुलाकात में मैंने प्रधानमंत्री से कोरोना को लेकर चर्चा की। हमने प्रधानमंत्री को बताया कि कोरोना की रोकथाम के लिए जो हमें वैक्सीन मिली है उसमें बढ़ोतरी की जानी चाहिए। हमारे राज्य की जनसंख्या के अनुसार अन्य राज्यों के मुकाबले हमें कम वैक्सीन मिली है। अभी हमारे यहां कोरोना पॉजिटिव की दर 1 फीसदी के आसपास है।" उन्होंने बताया कि पीएम से बातचीत में उन्होंने कहा कि, "हम चाहते हैं कि वैक्सीन सबको मिलनी चाहिए, इसी के बारे में हमारी प्रधानमंत्री से चर्चा हुई है। हमने प्रधानमंत्री से बंगाल के विभिन्न प्रोजेक्टों के बारे में, टैक्स के बारे में बात की है। साथ ही बंगाल का नाम बदलने को लेकर भी प्रधानमंत्री से चर्चा हुई। हमने उनसे इस बारे में निवेदन किया है।"

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल सरकार राज्य का नाम 'बांग्ला' रखना चाहती है। ममता बनर्जी ने बताया कि प्रधानमंत्री ने इन सब विषयों को ध्यान से सुना है।


ममता कल करेंगी राहुल गांधी-सोनिया गांधी से मुलाकात

विपक्षी दलों के नेताओं से मुलाकात के विषय पर ममता बनर्जी ने बोला कि कई राजनीतिक दल एवं राजनीतिक दलों के नेता हमारे पुराने दोस्त हैं, इसलिए हम उनसे मुलाकात कर रहे हैं। ममता बनर्जी ने कहा, बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ मेरी मुलाकात होनी है। सोनिया गांधी ने मुझे चाय पर बुलाया है। इस मुलाकात के दौरान हम चाय पर चर्चा करेंगे।

बुधवार को ममता बनर्जी अपनी ही पार्टी के कई सांसदों से भी मुलाकात करेंगी। इसके अलावा वह कई जानी-मानी हस्तियों से मुलाकात करेंगी। सभी विपक्षी दलों को एक साथ लाने के विषय पर ममता बनर्जी ने कहा कि लोकसभा चुनाव में अभी देर है लेकिन इसकी प्लानिंग तो पहले से ही करनी पड़ती है। वैसे भी अभी उत्तर प्रदेश में चुनाव है, पंजाब में चुनाव है, त्रिपुरा में चुनाव है। त्रिपुरा में हमारे लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

सभी राजनीतिक दलों को एक साथ लाने के प्रयास पर ममता बनर्जी ने कहा कि हमें उम्मीद के साथ ही आगे बढ़ना होता है। उन्होंने कहा यदि उम्मीद नहीं रहती है तो जिंदगी बर्बाद हो जाती है।

राष्ट्रपति से मुलाकात में वैक्सीन का चक्कर

ममता बनर्जी ने कहा कि राष्ट्रपति से मुलाकात के लिए कोरोना वैक्सीन की डबल डोज और आरटी पीसीआर टेस्ट नेगेटिव दोनों होना जरूरी है। हम राष्ट्रपति की सुरक्षा का ध्यान रखेंगे हालांकि यदि संभव हो सके तो उनसे मुलाकात का निवेदन करेंगे।

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि पेगासस फोन टैपिंग मामले में प्रधानमंत्री मोदी को ऑल पार्टी मीटिंग बुलानी चाहिए। हम चाहते हैं कि इस मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट के सुपर विजन में करवाई जाए। बंगाल में उपचुनाव को लेकर उन्होंने कहा कि हम चुनाव आयोग द्वारा किए गए फैसलों को देखेंगे और तय समय में इन चुनाव को लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि बाइलेक्शन को रोका नहीं जा सकता। जब भी यह चुनाव होंगे उनकी पार्टी चुनाव लड़ेगी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia