नेताजी जयंती समारोह में जय श्रीराम के नारे पर ममता हुईं नाराज, पीएम को सुनाकर किया बहिष्कार

कोलकाता में पीएम मोदी की मौजूदगी में नेताजी की 125वीं जयंती पर आयोजित समारोह में आज जब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भाषण देने मंच पर पहुंचीं तो उनके खिलाफ जय श्रीराम के नारे लगने लगे। इससे नाराज ममता ने दो टूक सुनाते हुए भाषण देने से इनकार कर दिया।

फोटोः ANI
फोटोः ANI
user

नवजीवन डेस्क

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती पर कोलकाता के विक्टोरिया मेमोरियल में आज आयोजित कार्यक्रम विवादों की भेंट चढ़ गया। पीएम मोदी की मौजूदगी में आयोजित इस कार्यक्रम में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ मंच के नीचे से जय श्रीराम के नारे लगे, जिस पर विरोध दर्ज कराते हुए ममता ने भाषण देने से इनकार कर दिया और ने अप्रत्यक्ष रूप से पीएम मोदी को दो टूक सुनाते हुए कहा कि किसी को बुलाकर उसका अपमान करना ठीक नहीं है।

कोलकाता में विक्टोरिया मेमोरियल पर नेताजी जयंती समारोह में भाषण के लिए जैसे ही ममता का नाम पुकारा गया, वैसे ही वहां मंच के नीचे से जय श्रीराम के नारे लगने लगे। कार्यक्रम के संचालकों के बार-बार आग्रह पर भी लोग नहीं माने और जय श्री राम के नारे लगाते रहे। इस पर नाराज होकर ममता ने भाष ण देने से इनकार कर दिया और दो टूक सुनाकर अपनी जगह पर आकर बैठ गईं।

कार्यक्रम के दौरान इस व्यवहार पर ममता ने कहा, “मुझे लगता है कि सरकार के प्रोग्राम की कोई गरिमा होनी चाहिए। यह एक सरकारी कार्यक्रम है, किसी पार्टी का नहीं, यह सभी पार्टी और लोगों का प्रोग्राम है। मैं प्रधानमंत्री जी की आभारी हूं, कल्चरल मिनिस्ट्री की आभारी हूं कि आप लोगों ने कोलकाता में प्रोग्राम किया। लेकिन किसी को आमंत्रित करके, किसी को निमंत्रित करके उसका अपमान करना आपको शोभा नहीं देता। मैं इस पर विरोध जताते हुए यहां नहीं बोलूंगी। जय हिंद, जय बांग्ला।”

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय
next