'MP के मनोनीत CM मोहन यादव पर हैं बड़े पैमाने पर हेराफेरी समेत गंभीर आरोप', कांग्रेस ने पूछा- यही है PM मोदी की गारंटी?

जयराम रमेश ने कहा कि चुनाव नतीजों के आठ दिन बाद बीजेपी ने मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री चुना, एक ऐसा व्यक्ति जिसके खिलाफ उज्जैन मास्टरप्लान में बड़े पैमाने पर हेरफेर सहित कई गंभीर आरोप हैं।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री पद पर बीजेपी द्वारा मोहन यादव का नाम घोषित करने के एक दिन बाद कांग्रेस ने उनके ऊपर गंभीर सवाल खड़े किए हैं। बीजेपी पर तंज कसते हुए कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा कि मोहन यादव के खिलाफ बड़े पैमाने पर हेराफेरी समेत कई गंभीर आरोप हैं। उन्होंने उज्जैन मास्टरप्लान पर सवाल उठाया और पूछा कि क्या यही राज्य के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गारंटी है।

एक्स पर एक पोस्ट में कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा, ''चुनाव नतीजों के आठ दिन बाद बीजेपी ने मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री चुना, एक ऐसा व्यक्ति जिसके खिलाफ उज्जैन मास्टरप्लान में बड़े पैमाने पर हेरफेर सहित कई गंभीर आरोप हैं।"

उन्होंने आगे कहा, "सिंहस्थ के लिए आरक्षित 872 एकड़ जमीन में से भू-उपयोग बदलकर जमीन अलग कर दी गई। उनके कई वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हैं, इनमें वह गाली-गलौज करते, धमकी देते और आपत्तिजनक बयान देते नजर आ रहे हैं।"

जयराम रमेश ने प्रधानमंत्री के 'मोदी की गारंटी' वाले बयान पर उन पर कटाक्ष करते हुए कहाा,"क्या यह मध्य प्रदेश के लिए 'मोदी की गारंटी' है?" उन्होंने अपने दावों के समर्थन में एक समाचार क्लिपिंग भी संलग्न की।


बीजेपी की मध्य प्रदेश इकाई ने सोमवार को मोहन यादव को राज्य का अगला मुख्यमंत्री बनाया। यह फैसला राज्य की राजधानी में पार्टी की विधायी बैठक के बाद आया। मोहन यादव (58) ने उज्जैन दक्षिण निर्वाचन क्षेत्र से विधानसभा चुनाव जीता। उन्होंने अपना पहला विधानसभा चुनाव 2013 में जीता और 2023 सहित लगातार तीन चुनावों में विजयी रहे।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;