आजम खान के समर्थन में उतरीं मायावती, बोलीं- जेल में रखना द्वेषपूर्ण, न्याय का गला घोंटने जैसा

मयावती ने साथ ही कहा कि देश के कई राज्यों में जिस प्रकार दुर्भावना व द्वेषपूर्ण रवैया अपनाकर प्रवासियों और मेहनतकश समाज के लोगों को अतिक्रमण के नाम पर भय और आतंक का शिकार बनाकर उनका रोजगार छीना जा रहा है, वह अनेकों सवाल खड़े करता है जो अति-चिन्तनीय भी है।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश की जेल में बंद समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान को बीएसपी प्रमुख मायावती का समर्थन मिला है। उन्होंने कहा कि यूपी सरकार द्वारा वरिष्ठ विधायक मोहम्म्द आजम खान को करीब सवा दो वर्षों से जेल में बन्द रखने का मामला द्वेषपूर्ण है। लोगों की नजर में ये न्याय का गला घोंटना नहीं तो और क्या है।

मायावती ने गुरुवार को ट्विटर के माध्यम से कहा कि "यूपी और अन्य बीजेपी शासित राज्यों में भी, कांग्रेस की ही तरह, जिस प्रकार से टारगेट करके गरीबों, दलितों, अदिवासियों और मुस्लिमों को जुल्म-ज्यादती और भय आदि का शिकार बनाकर उन्हें परेशान किया जा रहा है यह अति-दु:खद, जबकि दूसरों के मामलों में इनकी कृपादृष्टि जारी है।"


दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा कि इसी क्रम में यूपी सरकार द्वारा अपने विरोधियों पर लगातार द्वेषपूर्ण और आतंकित कार्यवाही तथा वरिष्ठ विधायक मोहम्म्द आजम खान को करीब सवा दो वर्षों से जेल में बन्द रखने का मामला काफी चचार्ओं में है, जो लोगों की नजर में न्याय का गला घोंटना नहीं तो और क्या है?

बीएसपी मुखिया ने आगे लिखा कि देश के कई राज्यों में जिस प्रकार से दुर्भावना व द्वेषपूर्ण रवैया अपनाकर प्रवासियों और मेहनतकश समाज के लोगों को अतिक्रमण के नाम पर भय और आतंक का शिकार बनाकर, उनकी रोजी-रोटी छीनी जा रही है, वह अनेकों सवाल खड़े करता है जो अति-चिन्तनीय भी है।


गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी के विधायक आजम खां फरवरी 2020 से सीतापुर जिला जेल में बंद हैं। उनकी पत्नी और विधायक बेटे अब्दुल्ला आजम जमानत पर रिहा हो चुके हैं। आजम खां ने सीतापुर जेल से ही विधानसभा का चुनाव भी लड़ा था। विधानसभा चुनाव में भारी अंतर से जीत हासिल की। फिलहाल उनकी रिहाई के कयास लगाए जा रहे हैं। उन्हें करीब 87 मामलों में जमानत भी मिल चुकी है। केवल एक मामले में वह अभी जेल में बंद हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia