करीब सवा साल बाद नजरबंदी से रिहा हुईं महबूबा मुफ्ती, आजाद होते ही 16 अक्टूबर को प्रेस कांफ्रेंस का किया ऐलान

जम्मू कश्मीर प्रशासन ने पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को हिरासत से रिहा करने का ऐलान कर दिया है। राज्य से अनुच्छेद 370 हटाए जाने से पहले हिरासत में ली गईं महबूबा एक साल से अधिक समय नजरबंदी में रहने के बाद अब आजाद हो गई हैं।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

आसिफ एस खान

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती को जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने करीब सवा साल की नजरबंदी के बाद रिहा करने का ऐलान कर दिया है। बीते साल 5 अगस्त को अनुच्छेद 370 हटाए जाने से पहले केंद्र सरकार ने उन्हें हिरासत में ले लिया था और तब से वह अपने आवास में ही नजरबंद थीं।

पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती को करीब 434 दिन की हिरासत के बाद रिहा किया गया है। मुफ्ती की रिहाई की खबर के बाद उनकी बेटी इल्तिजा ने उनके ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर साथ देने वालों का धन्यवाद दिया है। वहीं अपनी रिहाई के साथ ही महबूबा मुफ्ती सक्रिय हो गई हैं। पीडीपी ने ऐलान किया है कि महबूबा मुफ्ती 16 अक्टूबर को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगी, जिसका समय बाद में बताया जाएगा।

गौरतलब है कि पिछले साल मोदी सरकार ने संविधान से अनुच्छेद 370 हटाए जाने और जम्मू-कश्मीर को विभाजित कर केंद्र शासित प्रदेश बनाने के पहले राज्य के तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों समेत तमाम प्रमुख नेताओं को हिरासत में ले लिया था। इनमें महबूबा मुफ्ती के साथ पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला और उमर अब्दुल्ला के साथ कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज का नाम भी शामिल है। इनमें से फारुख और उमर अब्दुल्ला को पहले ही रिहा किया जा चुका है। वहीं महबूबा मुफ्ती की हिरासत अवधि लगातार बढ़ाई जा रही थी, जो अब खत्म हो गई है। वहीं कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज अभी भी हिरासत में हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय