'सुशासन राज' में भीड़ ने फिर लिया कानून हाथ में, संदिग्ध आरोपी की जमकर पिटाई, बचाने गई पुलिस को भी बनाया बंधक

पुलिस गुप्त सूचना के आधार पर दसवीं की छात्रा की हत्या के मामले में एक संदिग्ध आरोपी दशरथ मांझी को गिरफ्तार करने अब्दुल्ला चौक पहुंची थी। इस दौरान इसकी खबर ग्रामीणों को भी लग गई। बड़ी संख्या में जुटे ग्रामीणों ने आरोपी को पकड़कर उसकी जमकर पिटाई कर दी।

 फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

बिहार के वैशाली जिले के महनार थाना क्षेत्र में दसवीं में पढ़ने वाली एक छात्रा की हत्या के खिलाफ सोमवार को लोगों का गुस्सा सड़कों पर फूट पड़ा। घटना से नाराज स्थानीय लोगों ने सोमवार को एक संदिग्ध की जमकर पिटाई कर दी और उसे बचाने आई पुलिस को भी भीड़ का कोपभाजन बनना पड़ा। पुलिसकर्मियों को जान बचाने के लिए एक दुकान में छिपना पड़ा।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर दसवीं की छात्रा की हत्या के मामले में पुलिस सोमवार को एक संदिग्ध आरोपी को गिरफ्तार करने अब्दुल्ला चौक पहुंची थी। इस दौरान इसकी सूचना ग्रामीणों को भी लग गई। बड़ी संख्या में जुटे ग्रामीणों ने संदिग्ध आरोपी को पकड़कर उसकी जमकर पिटाई कर दी।

इस बीच, जब पुलिस उसके बचाव में सामने आई तब भीड आक्रोशित हो गई। पुलिस किसी तरह संदिग्ध आरोपी को लेकर एक दुकान में घुस गई और खुद को बंद कर लिया। बाद में पुलिस अधीक्षक मनीष के पहुंचने और आश्वासन देने के बाद लोग पीछे हट गए और पुलिस संदिग्ध आारोपी को लेकर थाना पहुंची। पुलिस अधीक्षक ने बताया आरोपी की पहचान दशरथ मांझी के रूप में हुई है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।


बता दें कि महनार थाना क्षेत्र में 15 सितंबर को एक दसवीं की नाबालिग छात्रा का शव बरामद किया गया था। छात्रा 14 सितंबर को सुबह अपने घर से कोचिंग के लिए निकली थी, लेकिन वह कोचिंग नहीं पहुंची। एक दिन बाद 15 सितंबर को बरेठा बही चौक के पास पानी में अर्धनग्न अवस्था में छात्रा का शव बरामद किया गया था।

छात्रा की हत्या के बाद से इस पर राजनीति तेज हो गई। एलजेपी के नेता चिराग पासवान मृतक के परिजनों से मिलने उनके घर पहुंचे और लोगों को सांत्वना दी। चिराग ने इस हत्या की उच्च स्तरीय जांच की भी मांग की है। इधर, कई छात्र संगठन भी इस मामले में हत्यारों की जल्द गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia