'अडानी पर JPC जांच से बचने के बहाने ढूंढ रही मोदी सरकार', खड़गे बोले- पहले चोरी में सहयोग फिर जातिगत राजनीति का प्रयोग!

राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि मोदी सरकार अडानी पर जेपीसी से भागने के लिए नित नए बहाने ढूंढ रही है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने मोदी सरकार पर अडानी मामले की जेपीसी चांज से बचने के लिए बहाने करने के आरोप लगाए हैं। राज्यसभा में विपक्ष के नेता खड़ने ने कहा कि मोदी सरकार अडानी पर जेपीसी से भागने के लिए नित नए बहाने ढूंढ रही है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार अडानी घोटाले से ध्यान भटकाने के लिए तमाम प्रयास कर रही है। कांग्रेस अध्यक्ष ने पूछा कि, जब बैंक और जनता के पैसे लेकर नीरव मोदी, ललित मोदी, मेहुल चोकसी भागे, ओबीसी वर्ग नहीं भागा, फिर राहुल गांधी के बयान से ओबीसी वर्ग का अपमान कैसे हुआ? खड़गे ने सवाल किया कि मोदी सरकार जो पैसे लेकर भाग गए उनका बचाव क्यों कर रही है? पहले चोरी में सहयोग फिर जातिगत राजनीति का प्रयोग... शर्मनाक है!

खड़गे ने पूछा की कौन इस देश का पैसा लेकर भागा और कौन एलआईसी और एसबीआई के पैसे लेकर अमीर बन गया। ढाई साल में किसकी इतनी संपत्ति बढ़ी हम इसका जवाब मांगने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन मोदी सरकार के मंत्री, बीजेपी के नेता मुद्दे को भटकाने की कोशिश में लगे हुए हैं। ओबीसी को बदनाम करने के आरोपों पर खड़गे ने कहा कि बैकवर्ड क्लास के लिए, एससी, एसटी के लिए, अल्पसंख्यकों को लिए जो कांग्रेस हमेशा उनके साथ खड़ी रही है, उनके लिए लड़ी है। खड़के ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि जो लोग मनु की विचारधारा में विश्वास करते हैं, वो क्या बैकवर्ड क्लास के लिए लड़ेंगे।


गौरतलब है कि विपक्ष अडानी मामले में संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) से जांच पर अड़ा है। विपक्षी दलों का कहना है कि संसद के दोनों सदनों में गतिरोध के लिए सरकार जिम्मेदार है और वह अडानी मामले से ध्यान भटकाने के लिए ऐसा कर रही है। उनका कहना है कि हम अडानी घोटाले पर जेपीसी के गठन की मांग से पीछे नहीं हटेंगे।

कांग्रेस समेत लगभग सभी विपक्षी दल अडानी मामले की जांच जेपीसी से कराने की मांग कर रहे हैं। संसद से सड़क तक इस मुद्दे पर संग्राम जारी है। लेकिन सरकार जेपीसी जांच के लिए तैयार नहीं है। सत्ता पक्ष राहुल गांधी को लेकर बवाल कर रहा है। तो वहीं विपक्ष का कहना है कि राहुल गांधी के मुद्दे को इसलिए उछाला जा रहा है ताकि मोदी सरकार अडानी मामले की जेपीसी जांच से बच जाए। विपक्ष सत्ता पक्ष पर संसद नहीं चलने देने का आरोप लगा रहा है। उनका कहना है कि इतिहास में पहली बार ऐसा हो रहा है कि सत्ता पक्ष ही संसद की कार्यवाही को रोक रहा है। विपक्ष का कहना है कि मोदी सरकार के मंत्री और नेता ये सारा ड्राम पीएम मोदी और उनके मित्र अडानी को बचाने के लिए कर रहे हैं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;