राहुल से दुश्मन जैसा बर्ताव कर रही मोदी सरकार, हमारे नेताओं को चुनचुनकर निशाना बना रही पुलिस: अशोक गहलोत

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि देश में धर्म के नाम पर वो बवाल करा रहे हैं, पाकिस्तान के हालात देखिए सिर्फ धर्म के नाम पर ही क्या हो गया है। पुलिस हमारे नेताओं को चुनचुनकर निशाना बना रही है।

फोटो: विपिन
फोटो: विपिन
user

नवजीवन डेस्क

हैराल्ड मामले में राहुल गांधी से 55 घंटे की ईडी की पूछताछ को लेकर कांग्रेस केंद्र सरकार पर एक बार फिर हमलावर हुआ है। दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मोदी सरकार को जमकर घेरा। उन्होंने कहा कि कहा कि पुलिस हमारे नेताओं को चुनचुनकर निशाना बना रही है, अगर राजस्थान में हम ये करें तो सही लगेगा?

उन्होंने आगे कहा, "आज जो देश के हालात हैं वो चिंताजनक हैं, राहुल गांधी से 5 दिन में 50 घंटे पूछताछ की गई, आज तक ऐसा कभी नहीं हुआ। उन्होंने जैसे ईडी का सामना किया वो शानदार है, लंच तक का समय नहीं दे रहे हैं, रात 1 बजे तक रोक रहे हैं। उनके साथ दुश्मन जैसा व्यवहार किया जा रहा है। कांग्रेस मुक्त भारत की बात करते हैं ये, आज तो छोड़िए 7 पीढ़ी भी इनकी कांग्रेस मुक्त भारत नहीं बना पाएगी।"

फोटो: विपिन
फोटो: विपिन

उन्होंने आगे कहा कि "पुलिस का रवैया गलत था, आज तक ऐसा नहीं हुआ है। पुलिस टारगेट करके नेताओं पर बलप्रयोग किया जा रहा है। इन्होंने उद्योगपतियों पर इतना दबाव बना दिया कि कांग्रेस को कोई चंदा देने को तैयार नहीं है। जब कांग्रेस कह रही है भारत जोड़ो, तब सरकार लगी है सोनिया राहुल को तोड़ो। इसके खिलाफ हमारे विधायक और सांसद मौजूद हैं, वो संघर्ष कर रहे हैं।" "देश में धर्म के नाम पर बवाल करा रहे हैं, पाकिस्तान के हालात देखिए सिर्फ धर्म के नाम पर ही क्या हो गया है। पुलिस हमारे नेताओं को चुनचुनकर निशाना बना रही है, अगर राजस्थान में हम ये करें तो सही लगेगा? हिंदू राष्ट्र के नाम पर ये देश में बवाल कर रहे हैं, ये धर्म के नाम पर लोगों को भड़का रहे हैं।"

फोटो: विपिन
फोटो: विपिन

गहलोत ने कहा कि मैं आरएसएस और भाजपा के लोगों से पूछना चाहता हूं कि आप कब तक हिंदू धर्म के नाम पर लोगों को भड़काते रहोगे? हमारा पड़ोसी देश पाकिस्तान धर्म के नाम पर बना, क्या कारण है कि उसके दो टुकड़े हुए? पाकिस्तान से अलग बांग्लादेश क्यों बना जबकि दोनों जगह एक ही धर्म के लोग थे? धर्म के नाम पर देश बन सकता है, लेकिन इसकी कोई गारंटी नहीं है कि वह कायम रहेगा। उन्होंने यह भी कहा कि क्या हिंदू राष्ट्र बनाकर देश को आप एक रख पाएंगे? ये अभी अनुसूचित जाति और आदिवासी लोगों को गुमराह कर रहे हैं। मैं आरएसएस के लोगों को बचपन से देख रहा हूं। इन लोगों ने कभी अनुसूचित जाति के लोगों को गले नहीं लगाया। ये गांधी को नहीं मानते थे, अब उनकी तस्वीर लगा रहे हैं। आरएसएस पर सरदार पटेल ने प्रतिबंध लगाया तो इन लोगों ने माफी मांगी कि वे राजनीति में नहीं आएंगे। अब ये लोग पटेल की प्रतिमा लगा रहे हैं।

राजस्थान के मुख्यमंत्री ने सेना में भर्ती की ‘अग्निपथ’ योजना का उल्लेख करते हुए कहा कि युवा भर्ती की तैयारी कर रहे थे, लेकिन अचानक से नयी योजना लाई गई, जिससे युवा आंदोलित हो गए। उन्होंने कहा कि युवाओं को अहिंसक आंदोलन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि कई सैन्य अधिकारी कह रहे हैं कि यह योजना खतरनाक है

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia