मोदी सरकार ने मानी अपनी गलती, ब्याज दर घटाने के फैसले पर यू टर्न, वित्त मंत्री बोलीं- गलती से निकला था आदेश

मोदी सरकार ने ब्याज दर घटाने के फैसले पर यू टर्न लिया है। 24 घंटे के भीतर वित्त मंत्रालय ने अपना आदेश वापस ले लिया। वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा कि गलती से ब्याज दर घटाने का आदेश जारी हो गया था।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

मोदी सरकार ने छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर में कटौती करने का फैसला वापस ले लिया है। 24 घंटे के भीतर वित्त मंत्रालय ने अपना आदेश वापस ले लिया। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने ट्वीट कर ये जानकारी दी है। वित्त मंत्री ने कहा है कि यह आदेश गलती से निकल गया था।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि भारत सरकार की छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर वही रहेगी जो वित्त वर्ष 2020-2021 की आखिरी तिमाही में थी। यानी मार्च 2021 की ब्याज दर ही आगे भी मिलेगी। जारी किए गए आदेश वापस लिए जाएंगे।

गौरतलब है कि देर रात ही खबर आई थी कि वित्तीय वर्ष 2021- 22 की पहली तिमाही के लिए छोटी बचत योजनाओं पर बयाज दर घटा दी गई है। बुधवार को कहा गया था कि छोटी योजनाओं पर ब्याज दर में 1.10% तक कटौती की गई है। वहीं पीपीएफ पर मिलने वाले ब्याज दर को 7.1 फीसदी से घटाकर 6.4 फीसदी सालाना कर दिया गया था। नई दरें 1 अप्रैल, 2021 यानी आज से ही लागू होने वाली थी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय