शीत सत्र में मोदी सरकार का चौतरफा घिरना तय, कांग्रेस ने किसान, मंहगाई, चीन समेत कई मुद्दे उठाने का लिया फैसला

कांग्रेस संसद रणनीति समूह की बैठक के बाद मल्लिकार्जुन खड़गे ने बताया कि 29 नवंबर को संसद के शीत सत्र के पहले दिन कांग्रेस एमएसपी और केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा को लखीमपुर हिंसा में शामिल होने पर कैबिनेट से हटाने सहित किसानों के मुद्दे उठाएगी।

फोटोः ANI
फोटोः ANI
user

नवजीवन डेस्क

अगले हफ्ते से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र में मोदी सरकार का चौतरफा घिरना तय है। मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने शीत सत्र में सरकार को किसान, मंहगाई, चीनी आक्रामकता समेत विभिन्न मोर्चों पर घेरने का फैसला लिया है। संसद की शीत सत्र को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर आज पार्टी की संसद रणनीति समूह की हुई बैठक में इस संबंध में कई अहम फैसले लिए गए।

कांग्रेस की संसद रणनीति समूह की बैठक के बाद राज्यसभा में नेता विपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि आज कांग्रेस संसद रणनीति समूह की बैठक में हमने फैसला किया है कि हम संसद में कई मुद्दों को उठाएंगे, जिसमें मुद्रास्फीति, पेट्रोल और डीजल की कीमतें, चीनी आक्रामकता और जम्मू-कश्मीर का मुद्दा शामिल है।


राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि 29 नवंबर को संसद के शीतकालीन सत्र के पहले दिन कांग्रेस एमएसपी और केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा को लखीमपुर हिंसा में शामिल होने पर कैबिनेट से हटाने सहित किसानों के मुद्दों को उठाएगी। खड़गे ने कहा कि हम संसद में इन मुद्दों पर विपक्षी दलों को एक साथ लाने के अपने प्रयासों के तहत विभिन्न दलों के नेताओं को बुलाएंगे।

कांग्रेस संसद रणनीति समूह की बैठक के बाद आनंद शर्मा ने कहा कि किसानों की मांग, एमएसपी, लखीमपुर खीरी में 4 किसानों की हत्या में शामिल मंत्री का इस्तीफा, मूल्य वृद्धि सहित महत्वपूर्ण मुद्दे हैं। इन सभी मुद्दों को उठाया जाएगा। शर्मा ने कहा कि कांग्रेस प्रमुख विपक्षी दल है। हम पूरी ईमानदारी से अपना कर्तव्य निभाने की कोशिश करेंगे ताकि विपक्षी दल इन मामलों पर एक साथ बोल सकें।


कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर आज शाम हुई पार्टी की संसद रणनीति समूह की बैठक में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एके एंटनी, आनंद शर्मा, मल्लिकार्जुन खड़गे, अधीर रंजन चौधरी, केसी वेणुगोपाल, के सुरेश, रवनीत बिट्टू, जयराम रमेश समेत कई अन्य नेता मौजूद थे।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia