मोदी सरकार के मंत्री का पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती से इनकार, कच्चे तेल के दाम में अस्थिरता का किया दावा

हरदीप सिंह पुरी ने कटौती से इनकार करते हुए कहा कि दक्षिण एशियाई देशों में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगभग 40-80 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। यदि आप पश्चिमी औद्योगिक दुनिया को देखें, तो वहां कीमतें बढ़ी हैं, लेकिन भारत में कीमतें कम हुई हैं।

मोदी सरकार के मंत्री का पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती से इनकार
मोदी सरकार के मंत्री का पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती से इनकार
user

नवजीवन डेस्क

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में जारी गिरावट के बीच देश में पेट्रोल और डीजल के दाम में कमी किए जाने की अटकलों के बीच मोदी सरकार में पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बुधवार को साफ लहजे में कहा कि फिलहाल पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती का कोई प्रस्ताव नहीं है। कच्चे तेल की कीमतें अभी बहुत ज्यादा अस्थिर हैं।

हरदीप सिंह पुरी ने ईंधन की कीमत में कटौती के बारे में मीडिया रिपोर्टों की अटकलों को खारिज करते हुए कहा कि सरकार की सबसे बड़ी प्राथमिकता ऊर्जा की उपलब्धता बनाए रखना है। उन्होंने यह भी कहा कि हाल ही में जब कच्चे तेल की कीमतें आसमान छू रही थीं तो तेल विपणन कंपनियों- इंडियन ऑयल, बीपीसीएल और एचपीसीएल को भारी नुकसान हुआ था।


केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ईंधन की कीमतों में कटौती पर तेल विपणन कंपनियों के साथ कोई चर्चा नहीं हुई है और वे मूल्य निर्धारण के मामले में सकारात्मक स्थिति चाहते हैं। मंत्री ने बताया कि भारत एकमात्र ऐसा देश है जहां हाल के महीनों में ईंधन की कीमतें कम हुई हैं। उन्होंने कहा कि दूरदर्शी नेतृत्व के कारण हम ऐसा करने में सक्षम हैं।

हरदीप सिंह पुरी ने कहा, “दक्षिण एशियाई देशों में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगभग 40-80 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। यदि आप पश्चिमी औद्योगिक दुनिया को देखें, तो वहां कीमतें बढ़ी हैं, लेकिन भारत में कीमतें कम हुई हैं।' केंद्रीय उत्पाद शुल्क में कटौती दो मौकों पर की गई, नवंबर 2021 और मई 2022 में और इसे हमने 2023 में जारी रखा।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;