अमिताभ बच्चन को भारतीय सिनेमा का सबसे बड़ा सम्मान, ‘दादा साहब फाल्के’ से नवाजेगी मोदी सरकार

बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन को दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। भारतीय सिनेमा के सबसे बड़े सम्मान ‘दादा साहेब फाल्के पुरस्कार’ का ऐलान करते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा कि अमिताभ बच्चन का नाम सर्वसम्मति से चुना गया है।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

हिंदी सिनेमा के महानायक, बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन को भारतीय सिनेमा के सबसे बड़े सम्मान दादा साहेब फाल्के पुरस्कार के लिए चुना गया है। हिंदी सिनेमा में अमिताभ बच्च्न के योगदान को देखते हुए सरकार ने ये फैसला लिया है। केंद्रीय सूचना औऱ प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने पुरस्कार के लिए अमिताभ बच्चन के नाम का ऐलान करते हुए कहा कि समिति ने सर्वसम्मति से उनका नाम तय किया है।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मंगलवार शाम एक ट्वीट के जरिये ऐलान करते हुए लिखा, "दो पीढ़ियों का मनोरंजन करने और उन्हें प्रेरणा देने वाले महानायक अमिताभ बच्चन को दादा साहब पुरस्कार से सम्मानित करने के लिए सर्वसम्मति से चुना गया है। इस फैसले से पूरा देश और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय खुश है। उन्हें मेरी ओर से हार्दिक बधाई।

इस पुरस्कार का ऐलान होते ही सोशल मीडिया पर अमिताभ बच्चन के लिए बधाईयों का सिलसिला शुरू हो गया। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सम्मान के लिए अमिताभ बच्चेन को बधाई देते हुए कहा, “अमिताभ बच्चन हिंदी सिनेमा के उन कलाकारों में हैं जिन्होंने लम्बे समय तक सिने प्रेमियों के दिलों पर राज किया है। पांच दशक में उन्होंने अनेक फ़िल्मों में अपनी अभिनय कला एवं प्रतिभा का प्रदर्शन किया है। उन्हें दादा साहब फाल्के सम्मान मिलने की बधाई एवं शुभकामनाएं।”

बता दें कि भारतीय फिल्म जगत में जीवनभर के योगदान के आधार पर ही किसी कलाकार को दादा साहेब पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है। यह पुरस्कार भारत सरकार की ओर से दिया जाने वाला एक वार्षिक पुरस्कार है, जो किसी कलाकार को भारतीय सिनेमा में आजीवन योगदान के लिए दिया जाता है। इस पुरस्कार का आरंभ दादा साहब फाल्के के जन्म शताब्दि-वर्ष 1969 से हुआ। पहली बार यह सम्मान अभिनेत्री देविका रानी को प्रदान किया गया था। वर्तमान में इस पुरस्कार में 10 लाख रुपये और स्वर्ण कमल प्रदान किया जाता है।

लोकप्रिय