DU: 5 लाख से अधिक छात्रों ने कराया रजिस्ट्रेशन, ये है पीजी कोर्सेस में रजिस्ट्रेशन की अंतिम तारीख

दिल्ली विश्वविद्यालय में पीएचडी, एमफिल और पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों के लिए रजिस्ट्रेशन 26 जुलाई से शुरू हुआ था। रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि 21 अगस्त है। वहीं ग्रेजुएशन संबंधित पाठ्यक्रमों के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 2 अगस्त से शुरू हुई और 31 अगस्त तक चलेगी।

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

आईएएनएस

दिल्ली विश्वविद्यालय में विभिन्न पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में आवेदन की अंतिम तिथि नजदीक है। छात्रों के पास पीएचडी, एमफिल और पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों में आवेदन के लिए केवल 1 दिन शेष बचा है। इन पाठ्यक्रमों में रजिस्ट्रेशन की अंतिम तारीख 21 अगस्त है। दूसरी ओर ग्रेजुएट कोर्सिस में 31 अगस्त तक रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है। सभी पाठ्यक्रमों में कुल मिलाकर अभी तक पांच लाख से अधिक छात्र अपना रजिस्ट्रेशन करवा चुके हैं।

दिल्ली विश्वविद्यालय में पीएचडी, एमफिल और पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों के लिए रजिस्ट्रेशन 26 जुलाई से शुरू हुआ था। रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि 21 अगस्त है। वहीं ग्रेजुएशन संबंधित पाठ्यक्रमों के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 2 अगस्त से शुरू हुई और 31 अगस्त तक चलेगी। दिल्ली विश्वविद्यालय के मुताबिक अभी तक ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट, पीएचडी व एमफिल पाठ्यक्रमों में कुल मिलाकर पांच लाख से अधिक छात्र अपना रजिस्ट्रेशन करवाया चुके हैं। दिल्ली विश्वविद्यालय ने दाखिला प्रक्रिया संबंधी अपने आधिकारिक पोर्टल पर भी यह जानकारी साझा की है।

दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन के मुताबिक ग्रेजुएशन कोर्सिस के लिए अभी तक 3.40 लाख से अधिक छात्रों ने अपना पंजीकरण करवाया है। वहीं पोस्ट ग्रेजुएट पाठ्यक्रमों के लिए 1.5 लाख छात्रों ने रजिस्ट्रेशन करवाया है। एमफिल और पीएचडी पाठ्यक्रमों के लिए 21,000 से अधिक छात्र अपना रजिस्ट्रेशन करवा चुके हैं। हालांकि छात्रों के रजिस्ट्रेशन की संख्या अभी भी लगातार बढ़ रही है। आखिरी दिन इसमें और तेजी देखी जा सकती है।

दिल्ली विश्वविद्यालय में नए सत्र के दाखिले 4 अक्टूबर से शुरू किए जाएंगे। विश्वविद्यालय के कुलपति पीसी जोशी के मुताबिक दिल्ली विश्वविद्यालय के कॉलेजों में 1 अक्टूबर को पहली कट ऑफ जारी की जा सकती है। जहां 1 अक्टूबर को पहली कट ऑफ लिस्ट जारी कर दी जाएगी, वहीं 2 और 3 अक्टूबर को सार्वजनिक अवकाश होने के कारण प्रवेश प्रक्रिया 4 अक्टूबर से शुरू होगी। एमफिल, पीएचडी के लिए आवेदन करने वाले सभी उम्मीदवारों को एक सामान्य पंजीकरण फॉर्म भरना होगा। किसी भी स्थिति में पंजीकरण शुल्क वापस नहीं किया जाएगा।

दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन के मुताबिक सभी स्नातकोत्तर कार्यक्रमों के लिए दिल्ली विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा, चयनित स्नातक कार्यक्रमों और एमफिल, पीएचडी कार्यक्रमों का आयोजन राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (एनटीए) द्वारा किया जाएगा।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia