हालात

मुंबई फुटओवर ब्रिज हादसा: मरने वालों की संख्या पहुंची 6, सवालों के घेरे में फडणवीस सरकार और बीएमसी

दक्षिणी मुंबई में एक रेलवे स्टेशन के पास हुए हादसे में अब तक 6 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि इस हादसे में 33 लोग घायल हो गए हैं। वहीं शुक्रवार को सुबह में महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस घटना स्थल पर पहुंचे और हालात का जायजा लिया।

फोटो: सोशल मीडिया 

नवजीवन डेस्क

मुंबई में सीएसएमटी रेलवे स्टेशन के पास गुरुवार शाम फुट ओवर ब्रिज का हिस्सा गिरने से मरने वालों की संख्‍या 6 पहुंच गई है। वहीं इस हादसे में 33 लोग घायल हो गए हैं। वहीं शुक्रवार को सुबह में महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस घटना स्थल पर पहुंचे और हालात का जायजा लिया। इसके अलावा सीएम फडणवीस सेंट जॉर्ज अस्पताल घायलों से मिलने पहुंचे। उन्होंने कहा, “इस हादसे के जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई की जाएगी। एफआईआर दर्ज हो गई है।”

मुख्यमंत्री ने बताया कि हादसे में मृतकों के परिजनों को पांच-पांच लाख रुपए मुआवजा देने का फैसला किया है। इसके साथ ही घायलों को 50 हजार रुपये की आर्थिक मदद देने का फैसला किया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार घायलों को पूरा इलाज उपलब्ध कराएगी।

लेकिन इस हादसे को लेकर एक बड़ी बात सामने आई है। महज 6 महीने पहले इस फुट ओवरब्रिज को क्लीन चिट मिली थी। बता दें कि छह महीने पहले पेश की गई एक संरचनात्मक ऑडिट रिपोर्ट में इस फुट ओवरब्रिज को उपयोग के लिए फिट बताया गया था। ऐसे में सरकार और बीएमसी पर सवाल उठना जाएज है। वहीं दूसरी ओर मुंबई पुलिस ने इस हादसे में रेलवे और बीएमसी अधिकारियों के खिलाफ केस दर्ज किया है। ये केस आजाद मैदान पुलिस स्टेशन में दर्ज किया गया है।

खबरों के मुताबिक, एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि जब पुल ढहा तब पास के सिग्नल पर लाल बत्ती के चलते ट्रैफिक रुका हुआ था और इसी कारण ज्यादा मौतें नहीं हुई। उसने आगे कहा कि गुरुवार सुबह पुल पर मरम्मत कार्य चल रहा था इसके बावजूद इसका इस्तेमाल किया गया। जिसकी वजह से यह हादसा हुई।

इस हादसे पर पीएम मोदी ने भी शोक जताया है। उन्‍होंने ट्विटर पर लिखा है, “मुंबई के फुटओवर ब्रिज हादसे में गई लोगों की जान से बेहद दुखी हूं। मेरी संवेदनाएं पीडि़त परिवारों के साथ हैं।” वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा, “मुंबई फुटओवर ब्रिज हादसे की खबर से मुझे बेहद दुख हुआ है। मृतकों के परिजनों के प्रति मैं अपनी गहरी शोक और संवेदना व्यक्त करता हूं। जो घायल हैं उन्हें जल्द से जल्द राहत मिले मेरी ये प्रार्थना है।

कांग्रेस के रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा कि मुंबई ब्रिज हादसे के बारे में सुनकर दुख हुआ। मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं। उन्होंने कहा, आशा करता हूं कि प्रशासन त्वरित कदम उठाएगा और घायलों को तत्काल चिकित्सा मदद मुहैया कराएगा। उन्होंने कहा कि बार बार हो रहे इस तरह के हादसों के लिए मोदी सरकार और महाराष्ट्र सरकार जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि रेल मंत्री के ऑडिट से जुड़े बड़े बड़े दावे बार बार झूठ साबित हो रहे हैं।

इस हादसे के बाद मुंबई हमले में पकड़े गए पाकिस्तानी आतंकी अजमल कसाब का नाम फिर ताजा हो गया है। दरअसल, जो ब्रिज सीएसटी के बाहर गिरा है वो मुंबई में कसाब ब्रिज के नाम से मशहूर था। साल 2008 में मुंबई में हुए आतंकी हमले के बाद पकड़ा गया कसाब सीएसटी रेलवे स्टेशन के बाहर मौजूद पुल से ही गुजरा था। इसलिए इस पुल को आम तौर पर ‘कसाब पुल’ के नाम से जाना जाता है।

Published: 15 Mar 2019, 10:56 AM
लोकप्रिय