मुजफ्फरपुर कांडः ब्रजेश ठाकुर को देर रात भेजा गया पटियाला जेल, जाते-जाते भी नीतीश सरकार ने रखा पूरा ख्याल

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को बुधवार रात ट्रेन से पंजाब की पटियाला जेल भेज दिया गया। लेकिन नीतीश सरकार ने जाते-जाते भी ब्रजेश ठाकुर का खास ख्याल रखा और जेल से स्टेशन तक उसे वीआईपी ट्रीटमेंट दिया।

फोटोः सोशल मीडिया
फोटोः सोशल मीडिया

नवजीवन डेस्क

बिहार के भागलपुर जेल में बंद मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन शोषण कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को 31 अक्टूबर की रात ट्रेन से पंजाब की पटियाला जेल भेज दिया गया। लेकिन खास बात ये है कि सुप्रीम कोर्ट की सख्ती के बाद भागलपुर जेल से हटाए गए ब्रजेश ठाकुर का नीतीश सरकार ने जाते-जाते भी खास ख्याल रखा और जेल से स्टेशन तक वीआईपी ट्रीटमेंट दिया गया। यही नहीं उसने स्टेशन पर पत्रकारों से भी बात की। नवगछिया रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ और जीआरपी की ओर से सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गए थे।

दरअसल ब्रजेश ठाकुर को बुधवार रात 12 बजे नवगछिया स्टेशन से आम्रपाली एक्सप्रेस में अमृतसर ले जाया गया है। जहां से उसे सड़क मार्ग से पटियाला की नाभा जेल में जेल ले जाया जाएगा। इससे पहले बुधवार करीब पौने 9 बजे ब्रजेश ठाकुर को विशेष कैदी वाहन से भागलपुर सेंट्रल जेल से नवगछिया स्टेशन लाया गया। उसे ले जाने के लिए ट्रेन के एस-3 कोच में कुल 13 सीटें बुक थीं। ब्रजेश का खास ख्याल रखते हुए उसके लिए लोअर बर्थ बुक कराई गई थी। उसके साथ 12 पुलिसकर्मियों को भेजा गया है। ट्रेन पकड़ने से पहले नवगछिया रेलवे स्टेशन पर उसे पूरी तरह वीआईपी ट्रीटमेंट में रखा गया।

ट्रेन के स्लीपर का टिकट होने के बावजूद स्टेशन पर उसे फर्स्ट क्लास श्रेणी के एयरकंडीशन वेटिंग रूम में 3 घंटे तक रखा गया। यही नहीं इस दौरान उसके आराम का ख्याल करते हुए कमरे की लाइट भी बंद कर दी गई। इस दौरान उसके साथ मौजूद तमाम पुलिस पदाधिकारी भी उसके साथ अंधेरे कमरे में बैठे रहे। ट्रेन जब रात पौने 12 बजे नवगछिया पहुंची तब कमरे की लाइट जली और उसे बाहर निकाला गया। इसके बाद भी स्टेशन पर ठाकुर का रुतबा जारी रहा। उसे कड़ी सुरक्षा के बीच ट्रेन की बोगी तक ले जाया गया। इस दौरान वेटिंग रूम से 2 नंबर प्लेटफार्म पर खड़ी ट्रेन की सीट तक वह सीना ताने चलता रहा और पीछे-पीछे एक सिपाही उसकी अटैची ढोता रहा। फिर रात 12 बजे ट्रेन अमृतसर के लिए रवाना हो गई।

मुजफ्फरपुर कांडः ब्रजेश ठाकुर को देर रात भेजा गया पटियाला जेल, जाते-जाते भी नीतीश सरकार ने रखा पूरा ख्याल

इस दौरान ट्रेन पर चढ़ने से पहले ब्रजेश ठाकुर ने पत्रकारों से बात भी किया। उसने कहा कि उसे न्यायालय पर पूरा भरोसा है। ठाकुर ने सीबीआई पर खुद को और परिवार को परेशान करने का आरोप लगाते हुए कहा कि जांच एजेंसी एक पक्षीय जांच कर रही है। इस दौरान नीतीश सरकार द्वारा फंसाने के बारे में पूछे जाने पर ठाकुर ने चुप्पी साध ली और ट्रेन में चढ़ गया।

बता दें कि मंगलवार को मुजफ्फरपुर बालिका गृह में यौन शोषण मामले में सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कड़ा रुख अख्तियार करते हुए मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को बिहार से हटाकर पंजाब के उच्च सुरक्षावाले पटियाला जेल में भेजने का आदेश दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने यह आदेश उसके द्वारा जांच प्रभावित करने की खबरों पर दिया था।

लोकप्रिय