राहुल गांधी बोले- युवा बेरोजगारी दिवस मनाने को मजबूर, सम्मान है रोजगार, सरकार सम्मान देने से कब तक हटेगी पीछे?

राहुल गांधी ने बेरोजगारी का मुद्दा उठाते हुए के पर फिर केंद्र की मोदी सरकार को घेरा है। उन्होंने कहा कि देश में बेरोजगारी चरम पर है। राहुल गांधी ने कहा कि रोजगार युवाओं के लिए एक सम्ममान की तरह है। ऐसे में सरकार कब तक युवाओं को सम्मान नहीं देगी?

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर बेरोजागरी के मुद्दे पर केंद्र की मोदी सरकार को घेरा है। देश में बढ़ती बेरोजागरी को लेकर राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने पीएम पर हमला करते हुए कहा कि सरकार बेरोजगारों को ‘रोजगार’ का सम्मान कब देगी? राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा,"यही कारण है कि देश का युवा आज राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस मनाने पर मजबूर है। रोजगार सम्मान है। सरकार कब तक ये सम्मान देने से पीछे हटेगी?"

ट्वीट के साथ राहुल गांधी ने एक समाचार पत्र की रिपोर्ट भी शेयर की है, जिसमें देश में एक करोड़ से अधिक लोगों के बेरोजगार होने जबकि सरकारी नौकरियों में सिर्फ कुछ लाख रिक्तियां होने का दावा किया गया है। वहीं, सोशल मीडिया पर कांग्रेस समेत कई विपक्षी पार्टियां आज सामूहिक रूप से बेरोजगारी दिवस मना रही हैं। देश के अलग-अलग हिस्सों में युवा भी बेरोजगारी दिवस मना रहे हैं।

पिछले हफ्ते देश भर में बेरोजगारी के खिलाफ देशव्यापी कार्यक्रम के तहत युवाओं ने टार्च और दीया जलाकर मोदी सरकार के विरोध में प्रदर्शन किया थआ। युवाओं ने केंद्र सरकार से रोजगार की मांग की थी। बेरोजगारों को 10 हजार रुपए बेरोजगारी देने के साथ ही विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की नियुक्ति संबंधी प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरा करने की मांग की गई थी। इस मुहिम को कांग्रेस समेत कई विपक्षी पार्टियों का भी समर्थन मिला था।

लोकप्रिय
next