मायावती पर टिप्पणी करने वाली बीजेपी विधायक को महिला आयोग का नोटिस, अखिलेश बोले- अभी तो और गिरेगी बीजेपी

बीएसपी प्रमुख मायावती के खिलाफ विवादित बयान देने वाली बीजेपी विधायक साधना सिंह के खिलाफ राष्ट्रीय महिला आयोग ने नोटिस जारी किया है। महिला आयोग ने कहा कि साधना की टिप्पणी बेहद अपमानजनक, अनैतिक और महिलाओं की गरिमा और सम्मान के प्रति अनादर है।

फोटो: सोशल मीडिया 
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

बीएसपी प्रमुख मायावती पर विवादित टिप्पणी देने वाली बीजेपी विधायक साधना सिंह ने माफी तो मांग ली है कि लेकि उनकी मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) ने सोमवार को मायावती के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी करने के लिए बीजेपी की विधायक साधना सिंह को नोटिस भेजकर जवाब तलब किया। बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुगलसराय की विधायक साधना ने शनिवार को एक रैली में मायावती को 'एक ट्रांसजेंडर से खराब' बताया था और एक समय चिरविरोधी रहे समाजवादी पार्टी से गठबंधन करने के लिए अवसरवादी कहा था।

आयोग ने कहा कि साधना सिंह की टिप्पणी बेहद आपत्तिजनक, अनैतिक है और महिलाओं की गरिमा और सम्मान के प्रति अनादर दिखाता है। आयोग ने इसके साथ ही जिम्मेदार पद पर बैठे लोगों के ऐसे गैरजिम्मेदाराना विचार की निंदा की। आयोग ने साधना से इस मामले पर संतोषजनक जवाब देने को कहा है, लेकिन इसके लिए कोई विशेष तारीख का जिक्र नहीं किया है।

एनसीडब्ल्यू की कार्रवाई से एक दिन पहले साधना ने अपनी बदजुबानी के लिए माफी मांगी थी और कहा था कि किसी को अपमानित करने का उनका इरादा नहीं था। वहीं दूसरी ओर चंदौली में बीएसपी कार्यकर्ता ने केस दर्ज कराया था।

वहीं इस मामले पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा “ऐसा पार्टी, जो दावा करती रही है कि सिर्फ वही भारतीय संस्कृति का प्रचार-प्रसार कर सकती है, उनके सदस्य ने ऐसी गंदी भाषा का प्रयोग किया है। इन्हीं विधायक ने पहले समाजवादी पार्टी के बारे में भी बातें कही थीं, जो इंटरनेट पर उपलब्ध हैं।” उन्होंने आगे कहा कि चुनाव होने वाले हैं और बीजेपी की भाषा और नीचे गिरेगी।

उन्होंने आगे कहा, “हम उन्हें तलाशेंगे और उनके खिलाफ शिकायत दर्ज करवाएंगे। जनता इस तरह के भाषा का प्रयोग करने वाली बीजेपी नेताओं को चुनाव में जवाब देगी। कोई इस तरह कैसे बात कर सकता है? वे पिछले साढ़े 4 साल में फ्रस्ट्रेट हो गए हैं कि उन्होंने कुछ नहीं किया।”

(आईएएनएस के इनपुट के साथ)

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia