मेडिकल सीटों पर दाखिले के लिए नीट परीक्षा 4 महीने के लिए स्थगित होगी, मेडिकल इंटर्न को लगाया जाएगा कोविड ड्यूटी पर

कोरोना महामारी को काबू करने के लिए हुई उच्च स्तरीय बैठक में तय किया गया है कि मेडिकल सीटों पर दाखिले के लिए होने वाली नीट-पीजी परीक्षा चार महीने के लिए टाल दी गई है। इसके अलावा मेडिकल इन्टर्न्स को भी कोविड ड्यूटी में तैनात किया जाएगा।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

केंद्र सरकार ने मेडिकल सीटों पर दाखिले के लिए होने वाली नीट-पीजी परीक्षा को 4 महीने टालने का ऐलान किया है। प्रधानमंत्री की अगुवाई में हुई उच्च स्तरीय बैठक में फैसला लिया गया कि इस परीक्षा को कम से कम 4 महीने के लिए टाला जाए। बताया गया है कि इससे कोविड से लड़ने के लिए डॉक्टरों और नर्सों की कमी नहीं होगी। इस बैठक में यह भी तय हुआ कि मेडिकल इन्टर्न्स को भी कोविड ड्यूटी में तैनात किया जाए।

मानव संसाधन विभाग की समीक्षा के लिए हुई इस बैठक में तय हुआ कि नीट-पीजी परीक्षा 31 अगस्त 2021 से पहले आयोजित नहीं की जाएगी। साथ ही यह निर्णय भी लिया गया कि परीक्षा की अगली तारीख से पहेल परीक्षार्थियों को कम से कम एक महीना पहले जानकारी देनी होगी।

इसके अलावा मेडिकल इन्टर्न्स के लिए हुए फैसले में तय किया गया कि इन्हें फैकल्टी के मातहत काम करना होगा। बैठक में बताया गया कि एमबीबीएस फाइनल ईयर के छात्र टेली कंसल्टेशन और हल्के लक्षण वाले रोगियों के केस की निगरानी कर सकते है। इस फैसले से डॉक्टर्स पर वर्कलोड कम होगा। सीनियर डॉक्टर और नर्स की निगरानी में बीएससी क्वालीफाइड नर्स को भी काम की अनुमति मिली है। 100 दिनों की कोविड ड्यूटी करने वाले मेडिकल स्टाफ को सरकारी भर्तियों में प्राथमिकता मिलेगी। सभी इंश्योरेंस कवर्ड होंगे।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय