सरकार की नई आबकारी नीति से बीजेपी के हजारों करोड़ रुपये का अवैध धंधा हो जाएगा बंद, इसलिए विरोध कर रही पर्टी: AAP

आप नेता आतिशी ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि, "सरकार की नई आबकारी नीति से बीजेपी के हजारों करोड़ रुपये का अवैध धंधा बंद हो जाएगा। इस कारण बीजेपी नेता इसका विरोध कर रहे हैं।"

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

आईएएनएस

दिल्ली सरकार ने हाल ही में नई आबकारी नीति लेकर आई जिसका उद्देश्य दिल्ली में शराब माफिया को खत्म करना है, इसी मसले पर आज आप नेता आतिशी ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि, "सरकार की नई आबकारी नीति से बीजेपी के हजारों करोड़ रुपये का अवैध धंधा बंद हो जाएगा। इस कारण बीजेपी नेता इसका विरोध कर रहे हैं।" दरअसल आप के अनुसार नई पॉलिसी से 21 साल तक की उम्र वैध हो जाएगी, जिसके बाद रेस्टोरेंट और क्लबों से भाजपा की हफ्ता वसूली बंद हो जाएगी। आप का कहना है कि, इस पॉलसी से भाजपा वालों की आमदनी खत्म हो जाएगी। इस कारण बीजेपी नई आबकारी नीति के विरोध में खड़ी है।

आप नेता आतिशी ने कहा कि, "दिल्ली सरकार कुछ दिन पहले एक नई आबकारी नीति (एक्साइज पॉलिसी) लेकर आई है, ताकि दिल्ली में शराब माफिया को खत्म किया जा सके। लेकिन पिछले कई दिनों से हम देख रहे हैं कि शराब माफिया को खत्म करने के लिए जब से यह पॉलिसी आई है, भाजपा वाले बहुत परेशान हैं।"

"भाजपा वाले रोज कुछ न कुछ विरोध करते हैं। इसलिए समझने की बात यह है कि ऐसी पॉलिसी जो शराब माफिया को खत्म करने का प्रयास कर रही है, उसका भाजपा विरोध क्यों कर रही है?"


आतिशी ने कहा कि, "भाजपा शासित कई राज्य उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश, त्रिपुरा में शराब के सेवन की उम्र 21 साल निर्धारित है। जब दिल्ली सरकार शराब पीने की उम्र 21 साल करती है, तब भाजपा वाले इसका विरोध क्यों करते हैं? वहीं कई राज्यों में शराब के सेवन की उम्र दिल्ली से भी कम है। गोवा, कर्नाटक और हिमाचल प्रदेश तीनों राज्यों में भाजपा की सरकार है और वहां पर शराब के सेवन की उम्र 18 साल है।"

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia