हरियाणा में अमित शाह की बाइक रैली पर गहराया संकट, एनजीटी ने खट्टर सरकार को जारी किया नोटिस

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह एक लाख बाइकों के साथ हरियाणा में रैली करने वाले हैं। इस पर एनजीटी ने हरियाणा सरकार से जवाब मांगा है। प्रदूषण के खतरे को देखते हुए एनजीटी में याचिका दाखिल की गई थी।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

हरियाणा के जिंद में 15 फरवरी को होने वाली अमित शाह की रैली पर संकट गहराने लगा है। इस रैली को लेकर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) ने खट्टर सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

अमित शाह की रैली के खिलाफ एनजीटी में एक याचिका दायर कर रैली पर रोक लगाने की मांग की गई थी। खबरों के मुताबिक, अमित शाह का जिंद में एक बाइक रैली का भी कार्यक्रम है, जिसमें 1 लाख मोटरसाइकिलों के शामिल होने की बात कही जा रही है। इस बाइक रैली से बड़े स्तर पर प्रदूषण का खतरा है, और इसी बात को लेकर एनजीटी में याचिका दाखिल कर इसका विरोध किया गया है। याचिका को गंभीरता से लेते हुए एनजीटी ने हरियाणा सरकार को 13 फरवरी तक पूरे मामले पर जवाब देने को कहा है। मामले की अगली सुनवाई 13 फरवरी को ही होगी।

वहीं, अमित शाह की इस रैली का ऑल इंडिया जाट आरक्षण संघर्ष समिति भी विरोध करने का ऐलान कर चुकी है। समिति के अध्यक्ष यशपाल मलिक ने जाट आरक्षण के लिए जान गंवाने वालों के लिए इंसाफ की मांग करते हुए आरोप लगाया, “ना सिर्फ अमित शाह बल्कि हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने भी जाटों को धोखा दिया है।” मलिक ने कहा कि जहां अमित शाह 15 फरवरी को रैली करेंगे, वहीं पर लाखों जाट उनके नेतृत्व में मार्च करेंगे और मैदान की तरफ जाने वाली सड़कों को बाधित करेंगे। मलिक ने कहा है कि, “हम लोग उसी जगह पर भाई चारा न्याय रैली करेंगे, जहां अमित शाह रैली को संबोधित करेंगे।”

Published: 9 Feb 2018, 6:14 PM
लोकप्रिय
next