हरियाणा विधानसभा सत्र से ठीक पहले के सीएम आवास पर 9 और लोग कोरोना पॉजिटिव, विधायकों पर भी संक्रमण का खतरा!

हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के आईटी कंसलटेंट के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने बाद पंचकूला की कोविड लैब से आई रिपोर्ट में सीएम निवास के 9 और लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। पंचकूला सिविल सर्जन डॉ. जसजीत कौर ने इसकी पुष्टि की है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

धीरेंद्र अवस्थी

हरियाणा के मुख्‍यमंत्री आवास पर कोराना का खौफ पसर गया है। सीएम निवास पर 9 और लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। उधर, 26 अगस्त से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र को देखते हुए सभी विधायकों से अपने-अपने जिलों में कोरोना टेस्ट करवाने के लिए कहा गया है। इसके लिए संबंधित अधिकारियों को भी निर्देश दिए गए हैं कि वह अपने जिलों के अंतर्गत आने वाले विधायकों की कोरोना टेस्ट करवाना सुनिश्चित करें।

मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के आईटी कंसलटेंट के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने बाद पंचकूला की कोविड लैब से आई रिपोर्ट में सीएम निवास के 9 और लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। पंचकूला सिविल सर्जन डॉ. जसजीत कौर ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि चंडीगढ़ स्थित हरियाणा मुख्यमंत्री के आवास पर कोरोना संक्रमित पाए गए लोगों की उम्र 23 वर्ष से लेकर 55 वर्ष तक है। उनके मुताबिक, स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी कोरोना संक्रमित मरीजों को आईसोलेशन वार्ड में भर्ती किया जा रहा है। इन सभी कोरोना संक्रमित मरीजों के परिजनों को भी आईसोलेट करने की प्रक्रिया में स्वास्थ्य विभाग जुट गया है।

कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए लोगों की लिस्ट बनाने और ट्रेस करने की कोशिश की जा रही है, ताकि उन्हें भी क्वारंटाइन किया जा सके और उनके सैंपल कोरोना टेस्ट के लिए भेजे जा सकें। वहीं, सरकार ने 26 अगस्त से आरंभ हो रहे विधानसभा के मानसून सत्र से पहले सभी विधायकों का उनके जिलों में कोरोना टेस्‍ट करवाने के लिए कहा है। इसके साथ ही 24 अगस्त को विधानसभा प्रांगण में भी कोरोना जांच शिविर लगाया जाएगा, जिसमें विधायकों, अधिकारियों, कर्मचारियों और मीडिया के लोगों का कोरोना टेस्‍ट किया जाएगा।

राज्य के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री का कहना है कि प्रदेश के सभी सिविल सर्जन को निर्देश दिए गए हैं कि वह अपने क्षेत्रों के विधायकों का कोराना टेस्ट उनके घर जाकर करें। कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच सरकार ने एक बार फिर दोहराया है कि लोगों में एंटीबॉडी की पड़ताल करने के लिए प्रत्येक जिले के 850 लोगों में सीरो सर्वे करवाने की व्यवस्था की जा रही है। इसके अंतर्गत गांव में 550 तथा शहरों में 300 लोगों की जांच करवाई जाएगी।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


लोकप्रिय