सिलीगुड़ी में सरकारी कार्यक्रम के दौरान बिगड़ी नितिन गडकरी की तबीयत, प्राथमिक इलाज के बाद हालत स्थिर

गडकरी की तबीयत बिगड़ने की खबर मिलते ही राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने चिंता व्यक्त करते हुए तुरंत सिलीगुड़ी नगर निगम के आयुक्त अखिलेश कुमार चतुवेर्दी को फोन किया और गडकरी के लिए उचित चिकित्सा सुविधा सुनिश्चित करने के लिए कहा।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

मोदी सरकार में सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी की तबीयत एक बार फिर एक सार्वजनिक कार्यक्रम के दौरान अचानक बिगड़ गई, जिससे अफरातफरी मच गई। घटना पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी की है, जहां एक शिलान्यास कार्यक्रम के मंच से उतरते समय गडकरी की अचानक तबीयत बिगड़ गई, लेकिन फौरन प्राथमिक इलाज के बाद अब उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है।

मंच से उतरते समय बिगड़ी तबीयत

सिलीगुड़ी को सेवक छावनी से जोड़ने वाली प्रस्तावित सड़क का शिलान्यास करने के बाद मंच से नीचे उतरते समय गडकरी ने अचानक तबियत ठीक न होने की शिकायत की। इसके बाद तत्काल उन्हें पहले पास की एक झोपड़ी में ले जाया गया और तीन डॉक्टरों को ग्रीन कॉरिडोर के जरिये उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (एनबीएमसीएच) से फौरन बुलाया गया, जिन्होंने पहुंचते ही स्लाइन सपोर्ट में रखने के बाद कॉटेज में ही उनका प्राथमिक इलाज शुरू कर दिया।


अन्य सभी कार्यक्रम रद्द करना पड़ा

मिली जानकारी के अनुसार नितिन गडकरी बीमार महसूस कर रहे थे। उनके रक्तचाप के स्तर में उतार-चढ़ाव भी जटिलता में शामिल हो गया। बाद में उन्हें पूर्ण विश्राम के लिए एक स्थानीय होटल ले जाया गया और उनके अन्य सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए गए। डॉ. पी.जी. भूटिया ने पुष्टि की है कि ईसीजी, ब्लड शुगर और ब्लड प्रेशर जैसे परीक्षणों के बाद, केंद्रीय मंत्री को कुछ समय के लिए आराम करने की सलाह दी गई है। उन्होंने कहा कि उनकी हालत अब स्थिर है। उनकी मौजूदा दवाएं जारी रहेंगी और हमने कोई नई दवा नहीं दी है।

ममता बनर्जी ने अधिकारियों के दिए निर्देश

गडकरी की तबीयत बिगड़ने की खबर मिलते ही राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने चिंता व्यक्त करते हुए तुरंत सिलीगुड़ी नगर निगम के आयुक्त अखिलेश कुमार चतुवेर्दी को फोन किया और गडकरी के लिए उचित चिकित्सा सुविधा सुनिश्चित करने के लिए कहा। वहीं बीजेपी के दार्जिलिंग सांसद राजू सिंह बिस्टा ने बताया कि केंद्रीय मंत्री की हालत अब स्थिर है और उन्हें आराम की जरूरत है। उन्होंने कहा, चिंता करने की कोई बात नहीं है।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;