ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों के बीच नीतीश कुमार बोले- बिहार में नाइट कर्फ्यू की फिलहाल जरूरत नहीं

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नाइट कर्फ्यू की संभावनाओं पर विराम लगाते हुए साफ किया कि बिहार में फिलहाल नाइट कर्फ्यू की कोई जरूरत नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा है, ''बिहार की स्थिति अभी कई राज्यों से बेहतर है। यहां नाइट कर्फ्यू लगाने की जरूरत नहीं है।''

फोटो: IANS
फोटो: IANS
user

नवजीवन डेस्क

देश के कई राज्यों में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया हो, लेकिन अभी बिहार में फिलहाल इसकी जरूरत महसूस नहीं की जा रही है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को स्पष्ट कर दिया कि अभी बिहार में नाइट कर्फ्यू की जरूरत नहीं है।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नाइट कर्फ्यू की संभावनाओं पर विराम लगाते हुए साफ किया कि बिहार में फिलहाल नाइट कर्फ्यू की कोई जरूरत नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा है, ''बिहार की स्थिति अभी कई राज्यों से बेहतर है। यहां नाइट कर्फ्यू लगाने की जरूरत नहीं है।''

मुख्यमंत्री शनिवार को पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती पर उनकी प्रतिमा का माल्यार्पण करने पहुंचे थे। इस दौरान पत्रकारों ने जब नाइट कर्फ्यू के संदर्भ में उनसे पूछा तो उन्होंने कहा कि फिलहाल इसकी जरूरत नहीं है।

उल्लेखनीय है कि बिहार में अभी कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के एक भी मामले सामने नहीं आए हैं।

इस बीच, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि केंद्र सरकार के निर्देश का पूरी तरह पालन किया जा रहा है। राज्य सरकार लोगों से कोरोना गाइड लाइन का पालन करने की लगातार लोगों से अपील कर रही है।

वैसे, स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों का कहना है कि सरकार की तरफ से फिलहाल भले ही नाइट कर्फ्यू नहीं लगाया जाएगा, लेकिन कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन करवाने को लेकर योजना बनाई जा रही है। बिहार सरकार नए वैरिएंट को देखते हुए आम लोगों के लिए और खास लोगों के लिए गाइडलाइन तैयार करने वाली है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia