नोएडा के बाजारों में दिवाली की खरीददारी के लिए उमड़ी भीड़, त्यौहार की वजह से दो गज की दूरी की उड़ी धज्जियां

ग्राहकों को देख दुकानदारों के चेहरों पर भी खुशी झलकने लगी है। जिलाधिकारी ने सभी नागरिकों को दीवाली की शुभकामनाएं दी और कोरोना से बचने के लिए भी कहा। हालांकि बाजारों में त्यौहार की वजह से दो गज की दूरी एक मजाक बन कर रह गई है।

फोटो: सोशल मीडिया
फोटो: सोशल मीडिया
user

विनय कुमार

कोरोना महामारी को भूल चुके नोएडा शहर के लोग फिर से बाजारों में पहुंचने लगे हैं। दीवाली के त्यौहार पर लोगों में उत्साह बना हुआ है जिसकी वजह से लंबे समय से सुस्त पड़े बाजार में भी रौनक लौट आई है। ग्राहकों को देख दुकानदारों के चेहरों पर भी खुशी झलकने लगी है। बाजारों में आए लोग जमकर खरीददारी भी कर रहे हैं। उधर जिलाधिकारी ने सभी नागरिकों को दीवाली की शुभकामनाएं दी और कोरोना से बचने के लिए भी कहा। हालांकि बाजारों में त्यौहार की वजह से दो गज की दूरी एक मजाक बन कर रह गई है। सड़क किनारे बैठे हुए रंगोली बेचने वाले, दिए बेचने वाले तथा घरों में सजावट का सामान बेचने वाले सभी लोग खुश हैं। दरअसल इस बार दो दिन धनतेरस होने की वजह से लोग और ज्यादा उत्साहित हो गये हैं। ऐसे में व्यापारियों को शुक्रवार को भी बड़े स्तर पर खरीददारी की उम्मीद है।

हालांकि धनतेरस पर कोविड संक्रमण का भय नहीं दिखा और करीब सभी बाजारों में लोगों की देर रात तक भीड़ रही। नोएडा सेक्टर-18 स्थ्ति अट्टा बाजार समेत सभी बाजारों में गणेश-लक्ष्मी की मूर्ति, लाई-चूड़ा, बर्तन, मोबाइल आदि की दुकानों पर लोगों की लगातार आवाजाही बनी रही।


त्यौहार को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने भी सख्ती बढ़ा दी है। यातायात व्यस्तता बनी रहे, इसके लिए रूट डायवर्शन भी किया गया है। लेकिन इसके बावजूद सबसे ज्यादा जाम सेक्टर-8, 9, 10, 11, 12, 15, 16, 18, 26 आदि जगहों पर लगा रहा। आलम यह रहा कि सेक्टर-27 और 18 में प्रवेश करना ही लोगों के लिए भारी मुश्किल हो गया था।

बाजार के अंदर तो पैदल चलना भी दुश्वार हो रहा था। खरीददारी करने आए लोगों ने वाहन को बीच सड़क पर खड़ा कर दिया। इससे दूसरे वाहन चालकों को काफी समस्या हुई। नोएडा के अट्टा मार्केट में खरीदारी करने आये आयुष अग्रवाल ने बताया, कोरोना के डर की वजह से अभी तक हम घरों में बैठे हुए थे लेकिन दीवाली को बस एक दिन रह गया है। जिसके लिए खरीददारी करनी बहुत जरूरी है। हम बाजारों में एहतियात बरत रहे हैं लेकिन फिर भी कोरोना का डर है क्योंकि भीड़ बहुत ज्यादा है।


कपड़े का व्यापार करने वाले संकेत गुप्ता ने आईएएनएस को बताया, बाजार में भीड़ है, और लोग खरीददारी भी कर रहे हैं। धनतेरस पर भी लोगों की आवाजाही बनी रही। लोग दुकानों पर आ रहे हैं और कपड़े भी खरीद रहें है। बीते साल की तुलना में बाजार हल्का है लेकिन हम खुश हैं। लोगों के बाहर निकलने से हमें थोड़ी राहत मिलने की उम्मीद है और अच्छे व्यापार की भी।

त्यौहारो को देखते हुए, बॉर्डर के साथ साथ शहर के भीड़ भाड़ वाले इलाकों में पुलिस द्वारा गश्त बढ़ा दी गई। वहीं सघन चेकिंग अभियान भी चलाया जा रहा है। जिले के बड़े मॉल्स और बाजारों में बम निरोधक दस्ते से चेकिंग की जा रही है।

एडिशनल डीसीपी रणविजय सिंह ने बताया, दिवाली त्यौहार को लेकर पूरा पुलिस विभाग तैयार है, हमने नोएडा-दिल्ली बॉर्डर के अलावा शहर में जितने भी भीड़ भाड़ वाले इलाके हैं वहां पर पुलिसकर्मियों को तैनात किया है ताकि किसी भी हालात से तुरन्त निपटा जाए।

पीसीआर वैन, बाइक पर पुलिसकर्मियों द्वारा गश्त की जा रही है। वहीं महिला पुलिसकर्मी भी भीड़ वाले इलाकों में तैनात है। साथ ही संदिग्ध व्यक्तियों पर नजर भी बनाई जा रही है और शक होने पर हम पूछताछ भी कर रहें हैं।


दूसरी ओर जिलाधिकारी सुहास एल वाई ने सभी नागरिकों को दीवाली की शुभकामनाएं दी। जिलाधिकारी ने नागरिकों से आव्हान किया कि, वर्तमान में भी कोरोना का खतरा टला नहीं है। जिले के नागरिक घर से बाहर निकलने पर बाजारों में सामान खरीदते वक्त एवं सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का इस्तेमाल जरूर करें। वहीं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी पूरी तरह से करें और 2 गज की दूरी बनाए रखें।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


Published: 13 Nov 2020, 5:58 PM