BJP में हवा-हवाई हैं विकास की बातें, 5 साल में नोएडा में इनफ्रास्ट्रकचर के नाम पर कुछ भी नहीं हुआ: पंखुड़ी पाठक

नोएडा से कांग्रेस प्रत्याशी पंखुड़ी पाठक ने महिलाओं को लेकर, लड़की हूं लड़ सकती हूं अभियान के असर पर अपनी बात रखी। इसके साथ ही विकास, बेरोजगारी, शिक्षा और महंगाई को लेकर कांग्रेस प्रत्याशी ने योगी सरकार पर हमला भी बोला।

फोटो: नवजीवन
फोटो: नवजीवन
user

पवन नौटियाल @pawanautiyal

देश में चुनावी माहौल है। 5 राज्यों में अगले महीने से विधानसभा चुनाव की शुरूआत हो जाएगी। उत्तर प्रदेश में 7 चरणों में चुनाव संपन्न होने हैं। जिसका पहला चरण 10 फरवरी को होगा। पहले चरण में यूपी की जिन सीटों पर चुनाव होने हैं उनमें नोएडा भी शामिल है। आज नवजीवन की टीम नोएडा पहुंची जहां से कांग्रेस प्रत्याशी पंखुड़ी पाठक से बात की।

सवाल: प्रियंका गांधी ने जिस 'लड़की हूं, लड़ सकती हूं' अभियान की शुरूआत की थी उसका कितना असर आप जमीन पर देखती हैं?

जवाब: 'लड़की हूं, लड़ सकती हूं' अभियान का अच्छा असर दिख रहा है। महिलाओं का हमें समर्थन मिल रहा है। खास कर महिलाओं का कहना है कि इससे पहले हमसे किसी ने राजनीति से जुड़ी बात नहीं की। महिलाएं कहती हैं कि हमारा भी बराबर का वोट का अधिकार है, लेकिन हमारे मुद्दों के बारे में इससे पहले किसी ने बात नहीं की। प्रियंका गांधी ने हमसे पहले से ही कहा था कि महिलाओं के बीच में जाओ महिलाओं से बात करो। महिलाएं हमारे 'महिला घोषणा पत्र' से खुश हैं। महिलाओं का कहना है कि अगर हमारे बीच की महिला विधायक बनेगी को हमारे मुद्दों पर बात होगी, हम आवाज उठा पाएंगे, हम उनके सामने खुलकर बात रख पाएंगे।

सवाल: बीजेपी विधायक पंकज सिंह नोएडा के विकास की बात करते हैं, लेकिन तस्वीर जमीन पर कुछ और ही दिखती है, क्या कहेंगी?

जवाब: नोएडा दिखने में सिर्फ विकसित शहर है। ऐसा लगता है यहां के लोग खुशहाल होंगे। हमारे शहर का बहुत बड़ा क्षेत्र ऐसा है जहां मूलभुत सुविधाएं नहीं हैं। बात गांव की करें तो गांव में आज भी जिन लोगों ने अपनी जमीन दी इस शहर को बचाने के लिए उन्हें सही मुआवजा नहीं मिला है। उनका अपने मकान पर मालिकाना अधिकार नहीं है। वो अपने मकान पर कोई लोन नहीं ले सकते, उसे खरीद बेच नहीं सकते हैं। वहीं कई कॉलोनियां ऐसी हैं, जिनमें आज तक बिजली नहीं है। लोगों ने खंभे गाड़े हैं, लेकिन सरकार बिजली देने को तैयार नहीं है। कई जगहों पर पानी नहीं है। नोएडा जैसे शहरों पर सड़कें तक नहीं हैं।

सवाल: नोएडा में सड़कें चमकाने की बीजेपी लगातार बात करती रही है, इसमें कितनी सच्चाई है?

जवाब: नोएडा में 5 साल में बीजेपी सरकार ने इनफ्रास्ट्रकचर के नाम पर कुछ भी नहीं किया है। बारिश में यहां जल भराव हो जाता है। लोगों का घर से बाहर निकलना मुश्किल हो जाता है। कई क्षेत्रों में एक भी सड़कें नहीं हैं। ना ही सीवर सिस्टम है। कुल मिलाकर यहां का हाल बुरा है और इस पर चर्चा तक नहीं होती। शहर की मुख्य सड़कों को देखकर ये नहीं कहा जा सकता है कि यहां का विकास हुआ है। मौजूदा विधायक पंकज सिंह को इन मुद्दों पर जनता को जवाब देना चाहिए।

सवाल: कांग्रेस और खासकर आप किन मुद्दों को लेकर जनता का भरोसा जीतेंगी?

जवाब: महंगाई और बेरोजगारी बहुत बड़े मुद्दे हैं। नोएडा में ये और भी बड़े मुद्दे इसलिए हो जाते हैं क्योंकि यहां पूरे देश का युवा नौकरी की तलाश में, शिक्षा के लिए आते हैं। महंगाई नोएडा में ज्यादा है। यहां मकान, बिजली, पानी हर चीज महंगा है। मैं जहां भी जाती हूं वहां महिलाएं कहती हैं कि पहले ही नोटबंदी से हमारा रोजगार छिन गया। बावजूद उसके यहां महंगाई कम नहीं हो रही है। स्कूलों की फीस लगातार बढ़ रही है। सरकारी स्कूल इस लायक नहीं हैं कि वहां बच्चों को भेजा जाए और प्राइवेट स्कूल की मनमानी जारी है। गांव में डूब क्षेत्रों में बिजली पानी नहीं है। कई सोसाइटी ऐसी हैं जहां लोगों को पैसे देने के बाद भी फ्लैट नहीं मिले हैं। कइयों की रजिस्ट्री नहीं हुई है। पूरे शहर में कोई भी तबका ऐसा नहीं है जो खुश है। जो समस्या जैसी थी वैसी ही है या और बढ़ गई है।

सवाल: सीएम योगी ने एक लेख में ये बात कही है कि नारी शक्ति को कुछ हद तक काबू किया जाए, उसपर क्या कहेंगी?

जवाब: मुझे कोई आश्चर्य नहीं होता है, क्योंकि बीजेपी और संघ की विचारधारा महिला विरोधी रही है। संघ में महिलाओं को एंट्री नहीं मिली है। बीजेपी का ऑनलाइन ट्रोलिंग देखते हैं उसमें महिलाओं पर भद्दे कमेंट किए जाते हैं, ये हमारे देश की सभ्यता नहीं है। हमारे यहां नारी शक्ति को पूजा गया है, वहीं जो खुद को हिंदुत्ववादी कहते हैं, वो कहते हैं कि नारी की शक्ति को दबाना चाहिए। मुझे लगता है उसी नारी शक्ति को बढ़ावा देना चाहिए। यही नारी शक्ति बदलाव ला सकती है। प्रियंका गांधी ने हमें मौका दिया है कि हम राजनीति में अपनी शक्ति दिखाएं।

सवाल: सीएम भूपेश बघेल नोएडा प्रचार प्रसार के लिए आए थे, उनपर नियमों के उल्लंघन के आरोप के चलते FIR दर्ज की गई, दूसरी ओर बीजेपी विधायक सैकड़ों समर्थकों के साथ जुलूस निकालते देखे गए, क्या कहेंगी?

जवाब: जब से बीजेपी की सरकार आई है तब से चुनाव आयोग जैसी संस्थान पर सवाल उठने लगे हैं। विपक्ष को दबाने की कोशिश की जा रही है। चुनाव आयोग को ये कोशिश करनी चाहिए कि सबको बराबरी की नजरों से देखे। हमारे ऊपर जब मुकदमा हुआ उसी दौरान दादरी में बीजेपी के उम्मीदवार ढोल नगाड़ों के साथ प्रचार कर रहे थे। लेकिन उनपर कार्रवाई नहीं हुई। ये बात सब समझ गए हैं कि कांग्रेस पार्टी से बीजेपी डर रही है।

सवाल: लगातार मोदी-योगी की डबल इंजन की सरकार की नीतियों पर भी सवाल उठते हैं, इस पर क्या कहेंगी?

जवाब: इस सरकार के पास उत्तर प्रदेश में दिखाने के लिए एक भी प्रोजेक्ट नहीं है, जो ये जनता को दिखा सकें। हाल ही में पीएम को जेवर एयरपोर्ट बुलाया गया, इस तरह का माहौल बनाया गया जैसे जेवर में एयरपोर्ट की शुरूआत हो गई हो, लेकिन सच्चाई ये है कि जो भूमि अधिग्रहण होनी थी उसका एक तिहाई हिस्सा हुआ है। तीन में से एक फेज का भूमि अधिग्रहण हुआ है, जिसके खिलाफ किसान कोर्ट भी गए हैं। जेवर के नाम पर बीजिंग एयरपोर्ट की तस्वीरें भी शेयर की गईं, लेकिन अब जनता सब समझ चुकी है। कल सभी ने देखा जो टेलिप्रोमटर बंद हो गया तो पीएम अपने शब्द नहीं याद कर पाए। जो इनका प्रचार है सब हवाहवाई है। बीजेपी ने हमारे विकास की गती को रोकने का काम किया है।

सवाल: कांग्रेस आम लोगों को टिकट देती है, लेकिन बीजेपी बाहुबल नेता को ढूंढती है?

जवाब: कांग्रेस आम आदमी की पार्टी है। बीजेपी पर वंशवाद का आरोप लगता रहा है। यहां पर राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह को बीजेपी ने टिकट दिया है। यहां के वो विधायक भी हैं, लेकिन ना ही उनका ये क्षेत्र है ना ही इस क्षेत्र से आते हैं। क्या काम इस क्षेत्र के लिए उन्होंने किया है, उनका क्या सहयोग रहा है कोई नहीं जानता। बड़े नेता के बेटे थे तो इसलिए विधायक बन गए। बाकी पार्टियों में बाहुबल लोग, गैंगस्टर जैसों को टिकट दिया जा रहा है, लेकिन कांग्रेस में आम लोगों पर भरोसा किया जा रहा है। दूसरों का शोषण करने वाला व्यक्ति आगे नहीं बढ़ेगा। जो अपनी न्याय की लड़ाई लग रहा है उसके लिए भी पार्टी में जगह है। बाकी पार्टियों को अभी समय लगेगा इस तरह की सामाजिक लड़ाई लड़ने में।

सवाल: महिलाओं और युवाओं के मुद्दे से क्या बदलाव होगा और कितनी सीटें कांग्रेस की यूपी में आने वाली हैं?

जवाब: हम कई सालों से सत्ता से बाहर रहे हैं, लेकिन अब जिन लोगों को कांग्रेस ने टिकट दिया है उनपर लोग भरोसा कर रहे हैं। जनता उनको पसंद कर ही है। इस बार कांग्रेस बेहद अच्छा प्रदर्शन करती नजर आएगी।

पूरा इंटरव्यू नीचे देखें

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia