कड़ाके की ठंड में अब दिल्ली में घर उजड़ने का डर, DDA ने कालकाजी झुग्गी वालों को दिया नोटिस

डीडीए की इस नोटिस पर राजनीति भी गरमा गई है। कालकाजी से आप विधायक आतिशी ने कहा कि एमसीडी चुनाव से पहले बीजेपी ने लोगों को कहा था कि 'जहां झुग्गी वहां घर' लेकिन चुनाव खत्म होने के बाद डीडीए की ओर से झुग्गी वासियों को झुग्गी खाली करने के नोटिस मिल रहे हैं।

फोटोः IANS
फोटोः IANS
user

नवजीवन डेस्क

सुप्रीम कोर्ट के आदेश से आज उत्तराखंड के हल्द्वानी के बलभनपुरा में हजारों लोगों के घर उजड़ने का खतरा तो टल गया, लेकिन अब राजधानी दिल्ली में जारी कड़ाके की ठंड के बीच सैकड़ों लोग अपने घर उजड़ने के खौफ में आ गए हैं। दरअसल डीडीए ने कालकाजी के नेहरू कैंप और नवजीवन कैंप की बस्तियों में नोटिस चिपकाकर बस्ती खाली करने को कहा है, जिससे वहां रह रहे सौंकड़ों लोग घर उजड़ने के खौफ में आ गए हैं।

डीडीए ने कालकाजी के नेहरू कैंप और नवजीवन कैंप की कुछ झुग्गी बस्तियों में नोटिस चिपकाकर लोगों को झुग्गियों को खाली करने का आदेश जारी किया है और इसी के साथ डीडीए ने यह भी कहां है कि ऑथोरिटी झुग्गी निवासियों के लिए वैकल्पिक इंतजाम कर रही है। हालांकि लोगों में इसके खिलाफ काफी रोष है और वे वैकल्पिक इंतजाम से संतुष्ट नहीं हैं।


डीडीए की इस कार्रवाई पर कालकाजी के नेहरू कैंप और नवजीवन कैंप में रहने वाले झुग्गी वासियों ने आज डीडीए ऑफिस पहुंचकर विरोध प्रदर्शन किया। इस विरोध प्रदर्शन में वहां की झुग्गी वासियों ने हाथों में छोटे-छोटे कटआउट और पोस्टर लिए हुए थे, जिन पर लिखा था- "हमें नरेला नहीं जाना"। इस दौरान झुग्गीवासियों ने डीडीए के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

डीडीए के कालकाजी के झुग्गी वालों को नोटिस चस्पा करने के बाद इस पर राजनीति भी गरमा गई। आम आदमी पार्टी ने अपना विरोध जताते हुए कहा कि यह झुग्गी वासियों के साथ धोखा है। कालकाजी विधानसभा से आम आदमी पार्टी की विधायक आतिशी ने कहा कि एमसीडी चुनाव से पहले बीजेपी के लोग कहते थे कि 'जहां झुग्गी वहां घर' लेकिन अब चुनाव खत्म हो गया तो ये लोग अपना वादा पूरा नहीं कर रहे, बल्कि डीडीए की ओर से झुग्गी वासियों को झुग्गी खाली करने के नोटिस आ रहे हैं।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


/* */