अब एडहॉक कमेटी देखेगी भारतीय कुश्ती संघ का काम, ओलंपिक एसोसिएशन ने बनाई 3 सदस्यीय समिति

हाल में हुए चुनाव में यौन उत्पीड़न के आरोपी बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह के करीबी संजय सिंह के डब्ल्यूएफआई का अध्यक्ष चुने जाने के विरोध में दिग्गज पहलवानों साक्षी मलिक, विनेश फोगाट और बजरंग पूनिया ने एक बार फिर कुश्ती संघ के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था।

अब एडहॉक कमेटी देखेगी भारतीय कुश्ती संघ का काम, ओलंपिक एसोसिएशन का फैसला
अब एडहॉक कमेटी देखेगी भारतीय कुश्ती संघ का काम, ओलंपिक एसोसिएशन का फैसला
user

नवजीवन डेस्क

भारतीय ओलंपिक संघ ने बुधवार को भारतीय कुश्ती संघ के पूर्व प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह पर छिड़े विवाद में बड़ा फैसला लेते हुए तीन सदस्यीस एडहॉक कमेटी का गठन कर दिया है, जो भारतीय कुश्ती संघ का काम देखेगी। तीन सदस्यीय कमेटी का चेयरमैन भूपिंदर सिंह बाजवा को बनाया गया है। उनके अलावा एमएम सौम्या और मंजुशा कुंवर सदस्य होंगे।

सरकार ने भारतीय कुश्ती महासंघ को किया था निलंबित

ओलंपिक संघ ने यह फैसला भारतीय कुश्ती महासंघ को निलंबित करने के तीन दिन बाद लिया गया है। केंद्रीय खेल मंत्रालय ने 24 दिसंबर को कुश्ती संघ को निलंबित कर दिया था। इसके पीछे मंत्रालय ने कहा था कि नवनिर्वाचित कुश्ती संघ ने प्रक्रिया का पालन नहीं किया और पहलवानों को तैयारी के लिए पर्याप्त समय दिए बिना अंडर-15 और अंडर-20 राष्ट्रीय चैंपियनशिप के आयोजन की जल्दबाजी में घोषणा कर दी।


बृजभूषण के करीबी संजय सिंह के चुनाव का विरोध

दरअसल हाल में हुए चुनाव में डब्ल्यूएफआई का अध्यक्ष बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह के करीबी संजय सिंह को चुना गया था। इसके बाद बृजभूषण सिंह के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों को लेकर प्रदर्शन करने वाले दिग्गज पहलवानों साक्षी मलिक, विनेश फोगाट और बजरंग पूनिया ने एक बार फिर कुश्ती संघ के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था।

साक्षी, बजरंग, विनेश का विरोध

रियो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता साक्षी मलिक ने जहां बृजभूषण के करीबी संजय सिंह के अध्यक्ष चुने जाने के विरोध में कुश्ती से संन्यास का ऐलान कर दिया, वहीं बजरंग पूनिया ने पीएम मोदी को पत्र लिखते हुए पद्मश्री लौटाने का ऐलान कर दिया। इसके दो दिन बाद मंगलवार को विश्व चैम्पियनशिप की पदक विजेता विनेश फोगाट ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर अपना मेजर ध्यानचंद खेल रत्न और अर्जुन पुरस्कार लौटाने का ऐलान कर दिया।

Google न्यूज़नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia


;