नए साल पर ओमिक्रॉन का आतंक: संक्रमण संख्या 1200 पार, दिल्ली में कम्यूनिटी स्प्रेड का खतरा, महाराष्टर में तेज प्रसार

नए साल के जश्न पर ओमिक्रॉन का आतंक छाया हुआ है क्योंकि देश में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के मामलों की संख्या 1200 के पार पहुंच चुकी है। कई राज्य सरकारों ने पाबंदियां लगाई हैं और ओमिक्रॉन के बढ़ते मामलों से निपटने के उपायों को और सख्त कर दिया।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

देश भर में ओमिक्रॉन तेजी से पैर पसार रहा है। बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस के इस वेरिएंट से संक्रमित लोगों का आंकड़ा 1200 पार कर गया है। कोरोना के मामलों में अचानक तेजी आने के साथ ही केंद्र सरकार ने 8 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को आगाह करते हुए एडवाइजरी जारी की है। जिन राज्यों को चेतावनी दी गई है उनमें महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, दिल्ली, कर्नाटक और गुजरात हैं, जहां कोरोना संक्रमण के केसों में सप्ताह स्तर पर बड़ा उछाल चिंता का कारण है। केंद्र ने कहा कि आठ जिलों में एक सप्ताह में 10 फीसदी से ज्यादा सक्रिय मामले मिले हैं, जबकि 14 जिलों में 5 से 10 फीसदी के बीच सक्रिय मामले हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय इन राज्यों को पत्र लिखकर जांच में तेजी लाने, अस्पतालों की तैयारी को पुख्ता करने, कोरोना टीकाकरण का दायरा और रफ्तार बढ़ाने के साथ-साथ पाबंदियों को सख्ती से लागू करने को कहा है। गुरुवार को दिल्ली में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि दिल्ली, हरियाणा, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक और झारखंड को घरेलू यात्राएं और शादी आदि कार्यक्रमों के मद्देनजर सतर्क रहने को कहा गया है।

ध्यान रहे कि गुरुवार को पहला दिन था जब देश में करीब एक महीने के बाद एक ही दिन में 10,000 से ज्यादा कोरोना संक्रमित सामने आए। केंद्र सरकार ने विश्व स्वास्थ्य संगठन का हवाला देते हुए कहा ओमिक्रॉन वेरिएंट डेल्टा के मुकाबले दो से तीन दिनों में दोगुनी रफ्तार से फैल रहा है।

केंद्र और राज्यों को स्वास्थ्य विभाग से मिले ताजा आंकड़ों के मुताबिक देश में ओमिक्रॉन के मामलों की संख्या करीब 1,200 थी। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य विभाग ने एक विज्ञप्ति में कहा कि महाराष्ट्र में 198 नए मामले दर्ज किए हैं, जिनमें 190 अकेले मुंबई में हैं । इसके साथ, राज्य में इन मामलों की संख्या बढ़कर 450 हो गई। इसके अलावा केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि दिल्ली में 263 मामले हैं, इसके बाद महाराष्ट्र में 252, गुजरात (97), राजस्थान (69), केरल (65) और तेलंगाना में 62 मामले हैं।ओमिक्रॉन के मामले अब तक 22 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में पाए गए हैं।


इधर दिल्ली में ओमिक्रॉन मामलों में वृद्धि के चलते पहले ही येलो अलर्ट जारी हो चुका है जिसके तहत राजधानी में रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रात का कर्फ्यू लगा हुआ है। इस बीच दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि ओमिक्रॉन धीरे-धीरे समुदाय में फैल रहा है और राष्ट्रीय राजधानी में विश्लेषण किए गए नियमित कोविड मामलों के नमूनों में से 46 प्रतिशत में ओमिक्रॉन का प्रकार पाया गया है।

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia