उत्तर प्रदेश में बाहर से आने वाले यात्रियों की हवाई अड्डे पर ही होगी जांच, लक्षण मिलने पर रहना होगा 7 दिन क्वारंटीन

कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन से बचाव के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने दिशानिर्देश जारी किए हैं। इसके तहत बाहर से आने वाले यात्रियों की हवाई अड्डे पर ही जांच की जाएगी। अगर किसी में लक्षण पाए जाते हैं तो 7 दिन का क्वारंटीन अनिवार्य होगा।

फोटो : सोशल मीडिया
फोटो : सोशल मीडिया
user

नवजीवन डेस्क

उत्तर प्रदेश सरकार ने ओमिक्रॉन वेरिएंट से बचाव के लिए दिशा निर्देश तय किए हैं। सरकार ने कहा है कि बाहर से आने वाले यात्रियों की हवाई अड्डे पर ही जांच की जाएगी और अगर किसी में लक्षण मिलते हैं तो उसे 7 दिन के लिए क्वारंटीन रहना होगा। उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री संजय प्रताप सिंह ने कहा कि "हमारे देश में अभी ओमीक्रोन का केस नहीं आया है जो 1-2 केस है उसका अभी पता नहीं चला पा रहा है कि वो ओमीक्रोन ही है। लेकिन हमने इसके लिए तैयारी की है। प्रदेश में बाहर से आए यात्रियों का आरटी-पीसीआर टेस्ट करना अनिवार्य है।"

इसके साथ ही ऐसे यात्रियों की ट्रैवल हिस्ट्री भी निकाली जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को टेस्टिंग बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं।

इस बीच लखनऊ के जिलाधिकारी ने इस संबंध में दिशा निर्देश जारी किए हैं। निर्देश के तहत, "लखनऊ एयरपोर्ट पर पहुंचने वाले सभी यात्रियों की थर्मल स्कैनिंग कराई जाएगी, थर्मल स्कैनिंग में लक्षण पाये जाने पर सभी यात्रियों की मुफ्त में आरटी-पीसीआर टेस्ट होगा।"

नवजीवन फेसबुक पेज और नवजीवन ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

प्रिय पाठकों हमारे टेलीग्राम (Telegram) चैनल से जुड़िए और पल-पल की ताज़ा खबरें पाइए, यहां क्लिक करें @navjivanindia